भगवान सूर्यदेव जी

आप भी करे भगवान सूर्यदेव जी के इस मंत्र का जप, होंगे लाभकारी फायदे

भगवान सूर्य देव जी की पूजा अर्चना करना बहुत लाभदायक होता है। माना जाता है के अगर हर सुबह भगवान सूर्य देव जी को जल या तेल चढ़ाया जाये तो बहुत से दुखो से निजात मिलता है और जीवन में सरलता आती है। माना जाता है के भगवान सूर्य देव जी का एक मन्त्र आपके सरे जीवन को सरल और खुशनुमा बना देता है। तो आइए जानते है भगवान सूर्य देव जी के इस मंत्र के बारे में। 

पद्मासनः पद्मकरः पद्मगर्भः समद्युतिः।
सप्तश्चः सप्तज्जुश्च द्विभुजः स्यात् सदारविः।।

उत्तरायण सूर्य में स्नान दान और ध्यान का महत्व अत्यधिक रहता है. सूर्याेपासना से न्यायिक मामलों में सफलता मिलती है. प्रमोशन और अन्य प्रशासन प्रबंधन से लाभ के इच्छुक जन सूर्य ध्यान कर सकते हैं. सूर्य को अग्नि के कारक हैं. सूखे मेवे नारियल मिश्री आदि सूर्यदेव को अर्पित करें. सूर्य को अर्घ्य देते समय भी यह मंत्र प्रयोग में लाया जा सकता है.

वहीं सूर्याेपासना का आरंभ रविवार से आरंभ करें. ऐसे जातक जिनकी कुंडली मेष, सिंह और धनु लग्न अथवा राशि वाली है, उन्हें सूर्य ध्यान से सर्वाधिक लाभ प्राप्त होते हैं. आध्यात्मिक क्षेत्र में भी सूर्य प्रभावकारी है. पैतृक मामलों में सफलता देने वाला है. सूर्य उपासकों मे पिता के प्रति विशेष आदरभाव होता है. उन्हें नित्यप्रति पिता के चरण स्पर्श करना चाहिए. धूप में ध्यान से करने बेहतर परिणाम प्राप्त होते हैं. भोर में प्रथम को प्राथमिकता दें.

Live TV

Breaking News


Loading ...