Wuhan

वूहान का सीफूड मार्केट हो चुका है सील, स्थिति सामान्य

पिछले साल वूहान में कोरोना वायरस से बेहद प्रभावित  हुए च्यांगहान ज़िले के हुआनान थोक फल बाज़ार व अन्य जगहों की स्थिति अब सामान्य हो चुकी है। हालांकि इसी से सटा हुआ सीफूड मार्केट बंद कर दिया गया है। क्योंकि वहां के मार्केट में कुछ अवैध जंगली जानवरों की बिक्री होने की बात कही गयी थी। यहां बता दें कि विदेशों में कई बार कहा गया कि वूहान की वह वेट मार्केट(सीफूड मार्केट) फिर से खुल चुकी है।

लेकिन जब हम वहां पहुंचे तो देखा कि उक्त बाज़ार को चारों ओर से सील किया हुआ है। बताया जाता है कि उस पूरे क्षेत्र को भविष्य में किसी और काम में इस्तेमाल में लाया जाएगा। वर्तमान में सीफूड बाज़ार के बाहर विभिन्न तरह की पेंटिंग दीवारों में उकेरी गयीं हैं। इसके साथ ही सब्ज़ी व फल मार्केट में छोटी-छोटी गाड़ियों के जरिए सामान को उधर-उधर ले जा रहा था। वहां काम करने वाले अधिकांश मज़दूरों व लोगों ने मॉस्क भी पहन रखे थे। 

यह बताना जरूरी है कि वूहान में घूमने के दौरान हमने किसी भी बाज़ार में कहीं भी अजीब तरह के जानवर नहीं देखे। चीन सरकार ने चमगादड़ व पैंगोलिन आदि की बिक्री पर पिछले साल ही प्रतिबंध लगा दिया था, जो हमारी पड़ताल में साफ दिखा। स्थानीय लोगों ने विदेशी मीडिया पर वूहान के लोगों को बदनाम करने का आरोप भी लगाया। उनका कहना है कि चमगादड़ का सूप पीने वाला वायरल वीडियो चीन का नहीं बल्कि इंडोनेशिया का था। 

गौरतलब है कि गत् वर्ष वूहान में कोरोना महामारी की स्थिति गंभीर थी। इसके कारण पूरी दुनिया की नज़रें हूबेई प्रांत पर लगी हुई थी। शुरुआत में जिस तेजी से मामले फैल रहे थे, उसे देखकर सभी के मन में आशंका थी कि इस खतरनाक वायरस के खिलाफ लड़ाई कैसे लड़ी जाएगी। लेकिन चीन के शीर्ष नेतृत्व ने वायरस के खात्मे के लिए युद्ध स्तर पर अभियान चलाया। हज़ारों चिकित्सक यहां भेजे गए, जबकि चीनी सेना ने भी वायरस को काबू में लाने के लिए व्यापक योगदान दिया।  

कहना होगा कि चीन सरकार व आम नागरिकों के संयुक्त प्रयासों से वूहान में जन-जीवन बहाल हो गया है। हालांकि भारत व कुछ अन्य देशों में महामारी का कहर जारी है। उम्मीद है कि पूरा विश्व वायरस के खिलाफ संघर्ष में एकजुट होगा। 
लेखक:अनिल आज़ाद पांडेय, वूहान, चीन
( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )  


Live TV

-->

Loading ...