economic problems

इन उपायों से करें जीवन में आने वाली आर्थिक समस्याओं को दूर

धन का हमारे जीवन में होना बहुत आवश्यक होता है और लोग धन प्राप्ति के लिए बहुत कुछ करते है। लोग इसके लिए पूजा पाठ मंत्र आदि बहुत कुछ करते है। लेकिन चाणक्य नीति के अनुसार अगर आप भी चाहती धन की प्राप्ति तो आपको मां लक्ष्मी जी पूजा अर्चना करनी चाहिए। 

धन भौतिक जीवन में एक जरूरी साधन है. चाणक्य ने धन को बुरे वक्त में सच्चा मित्र माना है. व्यक्ति के बुरे समय में जब सभी अपने साथ छोड़ जाते हैं तो सिर्फ धन ही ऐसा साथी होता है, जो संकट से निकालने में मदद करता है. इसलिए धन का संचय यानि बचत करने पर जोर दिया जाता है. धन की चाहत में व्यक्ति बड़े से बड़ा जोखिम भी उठाने के लिए तैयार रहता है. कठोर परिश्रम करता है. दूर देशों की यात्राएं भी करने के लिए तैयार रहता है.

लेकिन कभी कठोर परिश्रम करने और कई प्रकार के प्रयासों के बाद भी जीवन में धन की कमी बनी रहती है. या जीवन में अचानक धन की कमी आ जाती है. कभी धन की कमी के चलते व्यक्ति कर्जदार भी हो जाता है. धन न होने की स्थिति में व्यक्ति का आत्मविश्वास भी डगमगा जाता है. या कहें कि आत्म विश्वास में भी कमी आ जाती है.

धन व्यक्ति के आत्म विश्वास में भी वृद्धि करता है. जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए आत्मविश्वास का कायम रहना बहुत ही जरूरी होता है. क्योंकि किसी भी कार्य को करने के लिए हौंसला बहुत ही आवश्यक होता है जो आत्मविश्वास से ही आता है. जीवन में जब धन की कमी पैदा हो जाए, या धन का संकट खड़ा हो जाए तो कुछ उपाय व्यक्ति को जरूर करने चाहिए. ऐसा करने सें धन संबंधी दिक्कतों को दूर करने में मदद मिलती है.

लक्ष्मी जी की उपासना करें
लक्ष्मी जी को धन की देवी माना गया है. लक्ष्मी जी कृपा होने से व्यक्ति के जीवन से धन का संकट दूर होता है. लक्ष्मी जी को अनुशासन बेहद पसंद है. इसलिए जीवन को अनुशासित बनाने का प्रयास करें. शुक्रवार कर दिन मां लक्ष्मी जी को समर्पित है. इस दिन सुबह और शाम लक्ष्मी जी की पूजा करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं. इसके साथ ही शाम के समय सूर्य अस्त होने के बाद घर के मुख्य दरवाजे पर घी का दीपक जला कर रखना चाहिए. जरूरतमंद और निर्धन व्यक्तियों की मदद करने से भी लक्ष्मी जी प्रसन्न होती हैं.

Live TV

Breaking News


Loading ...