Unnatural rape of children in the name of admission

Varanasi : BHU के CHS में एडमिशन के नाम पर बच्‍चों संग अप्राकृतिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

वाराणसी (उत्तर प्रदेश) : बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (बी.एच.यू.) के सी.एच.एस. में बच्‍चों का एडमिशन कराने के नाम पर उनके साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। आरोपी ने नाबालिग बच्चों के साथ कुकर्म को अंजाम दिया तो पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार सभी बच्‍चे चौबेपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। बी.एच.यू. एन.सी.सी. और सी.एच.एस. में दाखिला कराने के नाम पर कई छात्रों को झांसे में लेकर आरोपी के खिलाफ उनसे पैसे लेने के अलावा अप्राकृतिक दुष्कर्म का मामला लंका थाने में दर्ज हुआ है। गंगापुर का रहने वाला मुरारी लाल गौड़ बी.एच.यू. से ग्रेजुएशन करने के बाद दाखिला के नाम पर बच्चों को शिकार बनाकर उनका शोषण करता था। इस दौरान चौबेपुर क्षेत्र के रहने वाले 5 छात्रों जिसकी उम्र 15 वर्ष से कम है, उनको दाखिला के नाम पर बी.एच.यू. परिसर की झाड़ियों में ले जाकर अप्राकृतिक दुष्कर्म किया था। 

इस दौरान पीड़ित छात्रों ने जब आपबीती सुनाई तो उनके परिजनों ने लंका थाने में शिकायत की। शिकायत के बाद आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लेकर लंका थाने पर बैठाया। सोमवार की शाम आरोपी अचानक थाने से गायब हो गया। कुछ देर बाद जब आरोपी युवक नहीं दिखा तो पुलिस कर्मियों में खलबली मच गई, जबकि आरोपी को पूछताछ के लिए लिखा-पढ़ी में हिरासत में लिया गया था, जो कार्यालय के मुंशी और दीवान को चकमा देकर निकल गया। काफी खोजबीन के बाद पुलिस कर्मियों की नजर आरोपी पर पड़ी तो फिर दोबारा हिरासत में लेकर उसे थाने ले गए। इस बारे में प्रभारी इंस्पेक्टर ने बताया कि हिरासत में लिया गया आरोपी युवकों से दाखिला कराने के नाम पर पैसा लिया है, जिसको शिकायत के बाद थाने पर बैठाया गया था जो टहलते हुए वहां से चला गया था। पुलिस के अनुसार इस बाबत शीर्ष अधिकारियों को भी अवगत करा दिया गया है। 

Live TV

Breaking News


Loading ...