Uttar Pradesh Chief Minister Yogi said that

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कोरोना महामारी से बचने के लिए प्रशासन फिर से कमर कस लें

लखनऊ (उत्तर प्रदेश) :  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संक्रमण होली के उल्लास में आफत न बन जाए, इसे लेकर सरकार पूरी तरह सतर्क है। उन्होंने कोरोना के हालात को भांपते हुए चिकित्सा और सुरक्षा से संबंधित सभी तैयारियां पहले की तरह दुरुस्त रखने पर जोर दिया है। सभी जिलों में फिर से एल-1, एल-2 और एल-3 अस्पताल तैयार करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने होली और अन्य पर्वों के मद्देनजर अपने सरकारी आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी मंडल और जिलों के पुलिस-प्रशासन सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम.एस.एम.ई. नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। 

मुख्यमंत्री ने पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों से कहा कि इस महीने होली सहित कई त्यौहार मनाए जाएंगे। उन्होंने प्रशासन से कहा कि वे लोगों को शारीरिक दूरी और मास्क के प्रयोग के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन कराएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा करते हुए कुछ जिलों में संक्रमण के मामले ज्यादा देखने को मिल रहे हैं, इसलिए इसे रोकने के लिए प्रभावी रणनीति बनाई जाए। इसी तरह कोरोना टीकाकरण की समीक्षा करते हुए वैक्सीन की बर्बादी रोकने पर जोर दिया और कहा कि टार्गेट ग्रुप का टीकाकरण कराएं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी रेलवे स्टेशन, बस अड्डों और हवाई अड्डों पर जांच की व्यवस्था करें, तथा यात्रियों की पूरी निगरानी की जाए। उन्होंने प्रशासन से मास्क, शारीरिक दूरी के पालन, इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर पर नियमित बैठक के साथ ही कोरोना जांच की संख्या और बढ़ाने के लिए कहा। इस दौरान उन्होंने लखनऊ, गाजियाबाद व वाराणसी के जिलाधिकारियों से उनके जिलों में कोरोना की स्थिति की जानकारी ली और दिशा-निर्देश दिए। 

Live TV

Breaking News


Loading ...