Union Minister, Santosh Gangwar, Labor Ministry, cabinet reshuffle

कैबिनेट फेरबदल: केंद्रीय मंत्री Santosh Gangwar ने श्रम मंत्रालय से दिया इस्तीफा, इन मंत्रियों की भी हुई छुट्टी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूसरी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार आज शाम को होगा। एक ओर जहां नए चेहरों को शामिल किया जा रहा है तो कई पुराने मंत्रियों की छुट्टी भी हो रही है। मोदी कैबिनेट के विस्तार पर फाइनल मुहर से पहले ही केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने श्रम मंत्रालय से इस्तीफा दे दिया है।

इन मंत्रियों ने दिया इस्तीफा 
इसके साथ ही केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेशनन पोखरियाल निशंक, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री देबाश्री चौधरी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन, केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री डी वी सदानंदा गौड़ा, राज्य शिक्षा मंत्री संजय धोत्रे, पर्यावरण-वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो, हरियाणा के अंबाला से सांसद रतन लाल कटारिया, ओडिशा के बालासोर से सांसद प्रताप सारंगी ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों के मुताबिक इस बार 17 से 22 नए चेहरों को कैबिनेट में जिम्मेदारी सौंपी जाने की संभावना है। जानकारी के मुताबिक दो दर्जन ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) के मंत्री नए विस्तार में शामिल किए जा सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास पहुंचे कई मंत्री 
शाम को होने वाले कैबिनेट विस्तार से पहले कई नेता प्रधानमंत्री आवास पर पहुंच रहे है। प्रधानमंत्री आवास पहुंचने वालों में भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव, मध्य प्रदेश से राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया, महाराष्ट्र से राज्यसभा के सदस्य नारायण राणे, केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर, हरियाणा के सिरसा से सांसद सुनीता दुग्गल, दिल्ली से भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, उत्तराखंड से सांसद अजय भट्ट, कर्नाटक से सांसद शोभा करंदलाजे, महाराष्ट्र से सांसद प्रीतम मुंडे, अपना दल (एस) की अनुप्रिया पटेल, लोक जनशक्ति पार्टी के पारस गुट के पशुपति पारस और जनता दल (यूनाइटेड) के आरसीपी सिंह सहित कुछ अन्य नेता शामिल हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, बीजेपी नेता बीएल संतोष भी पीएम आवास पर मौजूद हैं।

बता दें कि शाम 6 बजे मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नए मंत्रियों के लिए शपथ ग्रहण समारोह होगा। मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार में 19 नए चेहरों को शामिल किया जा सकता है। इसके साथ ही मंत्रिपरिषद की संख्या 53 से बढ़़कर 72 हो जाएगी। कैबिनेट फेरबदल में कुछ मंत्रियों का कद भी बढ़ाया जा सकता है। 

Live TV

-->

Loading ...