UP police, Delhi-Saharanpur highway

UP पुलिस ने दिल्ली-सहारनपुर हाईवे से हटाया किसानों का धरना, उखाड़ कर फेंके टेंट

बागपतः मोदी सरकार के कृषि कानून के विरोध में आंदोलन की राह पकड़े किसानों के हुजूम में शामिल उत्पातियों ने गणतंत्र दिवस पर लाल किले में घुसकर बेतहाशा तोड़फोड़ की। इस दौरान आंदोलनकारी किसानों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हो गई, जिसकी चौतरफा निंदा हो रही है। वहीं दिल्ली हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस भी एक्शन मोड में आ गई है। दरअसल, यूपी पुलिस ने देर रात दिल्ली-सहारनपुर हाईवे से किसानों का धरना हटवा दिया। 

बागपत के बड़ौत शहर में दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर 19 दिसंबर से चले आ रहे किसानों के धरने को देर रात पुलिस ने जबरन उठवा दिया। पुलिस ने धरने में सो रहे किसानों को खदेड़ दिया और टेंट को उखाड़ कर सामान भी वहां से हटवा दिया। इसका वीडियो भी सामने आया है। वहीं बागपत के एडीएम के मुताबिक, नेशनल हाईवे अथॉरिटी ने पुलिस को चिट्ठी लिखी थी कि प्रदर्शन के कारण उनका निर्माण कार्य बाधित हो रहा था, इसीलिए कार्रवाई की गई है। 

बता दें कि, कृषि कानूनों के विरोध में देशखाप चौधरी सुरेंद्र सिंह की अगुवाई में 19 दिसंबर को किसानों ने दिल्ली-सहारनपुर हाईवे की एक साइड में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया था। पुलिस-प्रशासन ने धरना समाप्त करने के लिए किसानों के साथ बातचीत का दौर शुरू किया, लेकिन किसानों ने धरना समाप्त नहीं किया था।

एंड्रायड पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

Live TV

-->

Loading ...