Bihars Chhath Vratis

बिहार के छठ व्रतियों द्वारा पहला अ‌र्घ्य आज

गोपालगंज (बिहार) : छठ पूजा सूर्य भगवान का पूजा है। बिहार के लोगों के लिए प्रमुख एवं संयम वाला छठ पूजा है। यह पूजा काफी धूमधाम से स्त्री एवं पुरुष मनाते हैं। छठ व्रतियों द्वारा पहला अर्घ्य देने से पूर्व खरना करते हैं। महिला एवं पुरुष अपने घर के समीप बने पानी वाला घाटों (नदी, तालाब) में सूर्य भगवान का अर्घ्य देते हैं। छठ पूजा में प्रसाद के रूप में गेंहू के आटे में गुड़ या शक्कर मिलाकर सरसों के तेल में पकवान बनाते हैं। इसके अलावा छठ व्रतियों ने पूजा की थाली में फल, फूल, नारियल, केले, सेब, चना, सिंदूर, गन्ने, नींबू, पान के पत्ते आदि सामान लेकर बने घाट पर जाकर पूजा-अर्चना करते हैं। छठ पूजा 4 दिनों तक चलने वाला पूजा है। 

इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए आपस में दूरी रखने के लिए घाट की व्यवस्था में कुछ बदलाव किया गया है, लेकिन छठ पूजा में किसी चीज की कमी न आए, इसके लिए पूरी तैयारी में स्त्री -पुरुष लगे रहते हैं। छठ पूजा बिहार के अलावा देश के कोने -कोने में रहने वाले बिहारवासी धूमधाम से मनाते हैं। 


Live TV

-->

Loading ...