Chandra Grahan 2021

Chandra Grahan 2021 : इस दिन लग रहा है साल का आखिरी चंद्रग्रहण, इन राशि वालो पर होगा नकरात्मक प्रभाव

19 नवंबर दिन शुक्रवार को इस साल का आखिरी चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। चंद्र ग्रहण के दौरान किसी भी शुभ कार्य को करना सही नहीं  माना जाता। इस बार चंद्र ग्रहण कार्तिक शुक्ल  पक्ष की पूर्णिमा तिथि में लगने जा रहा है। ज्‍योतिष के मुताबिक, चंद्रग्रहण का असर वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा।  हालांकि, इस ग्रहण का कुछ राशियों पर अच्छा तो कुछ पर नकारात्मक प्रभाव भी दिख सकता है। 

चंद्र ग्रहण कहां पर कब दिखेगा? 
भारतीय समय के अनुसार, चंद्र ग्रहण की शुरुआत सुबह 11 बजकर 34 मिनट से होगी जो शाम के 05 बजकर 33 मिनट पर रहेगा. इस तरह यह ग्रहण काफी लंबे समय तक नजर आएगा. यह ग्रहण लगभग 05 घंटे 59 मिनट तक रहेगा. चंद्रग्रहण युरोप, अमेरिका, पश्चिमी अफ्रीका, इंडोनेशिया, रूस, चीन, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में साफ साफ देखा जा सकेगा.

भारत में इन जगहों पर दिखेगा चंद्रग्रहण 
भारत में ये चंद्र ग्रहण अगरतला, आइजोल, कोलकाता, चेरापूंजी, कूचबिहार, डायमंड हार्बर, दीघा, गुवाहाटी, इंफाल, ईटानगर, कोहिमा, लामडिंग, मालदा, उत्तरी लखीमपुर, पासीघाट, पोर्ट ब्लेयर, पुरी, शिलांग, सिबसागर और सिलचर में दिखाई देगा. राजधानी दिल्ली में ये चंद्र ग्रहण नहीं नजर आएगा.

इस राशि और नक्षत्र में चंद्रग्रहण का दिखेगा असर
ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, चंद्रग्रहण का असर वृषभ राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा. हालांकि, चंद्र ग्रहण का कुछ राशियों पर अच्छा तो कुछ पर नकारात्मक प्रभाव भी दिख सकता है. ज्योतिषियों के अनुसार तुला, कुंभ और मीन राशि वालों के लिए यह चंद्र ग्रहण सामान्य होगा और उनके करियर में अच्छे मौके मिल सकते हैं, सफलता मिलने की संभावना बढ़ सकती है, नौकरी और बिजनेस में अच्छे परिणाम मिलेंगे, बाधाएं कम आएंगी. इसके अलावा धन लाभ के भी संकेत हैं. जबकि मेष, वृषभ, सिंह और वृश्चिक राशि वालों पर चंद्र ग्रहण की वजह से छुट-पुट परेशानियां बढ़ सकती हैं.

सूतक काल का समय
भारत में ग्रहण एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण रहेगा जिस वजह से ज्योतिष के मुताबिक सूतककाल प्रभावी नहीं होगा. चंद्र ग्रहण में सूतक काल ग्रहण के पांच घंटे पहले से ही शुरू हो जाता है

Live TV

Breaking News


Loading ...