Dussehra site 2 died due to electric shock

दशहरा स्थल के पास दुकान लगाने के लिए सड़क की कर रहे थे सफाई, करंट लगने से 2 की मौत

जिला के गांव डाहर में 11 केवी क्षमता की बिजली लाइन की चपेट में आने से 2 युवकों 30 वर्षीय धर्मबीर व 25 वर्षीय कीमती लाल की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दोनों के बचाने के चक्कर में अरु ण, नवाब व चांद भी बिजली का करंट लगने से झुलस गए। तीनों को पानीपत के सिविल अस्पताल में उपचार चल रहा है और अरुण की हालत चिंताजनक है। दोनों मृतक व तीनों घायल गांव डाहर के निवासी है।इस घटना से जहां गांव डाहर में मातम है। थाना इसराना पुलिस ने इस दर्दनाक हादसे की जांच शुरू कर दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव डाहर में दशहरा पर्व धूमधाम से मनाया जाता है, वहीं धर्मबीर, कीमती लाल, अरुण, नवाब, चांद दशहरा स्थल के पास अपनी दुकान लगाने के लिए सड़क की सफाई कर रहे थे। 

दशहरा स्थल के पास से करीब 8 फुट ऊंचाई से 11 केवी क्षमता की बिजली लाइन गुजर रही है। सफाई के दौरान धर्मबीर के हाथ में बांस था जो आसमान से ओस गिरने से गीला हो गया था और ऊपर से गुजर रही बिजली की तारों से छू गया। गीला बांस तारों से टकराते ही धर्मबीर को करंट लगा और वह कीमती लाल के ऊपर गिर गया। वह भी करंट से झुलस गया। धर्मबीर व कीमती लाल को बचाने के प्रयास में अरुण, नवाब व चांद भी करंट लगने से झुलस गए। हादसे के बाद ग्रामीण धर्मबीर, कीमती लाल, अरुण, नवाब, चांद को पानीपत के सिविल अस्पताल ले गए जहां धर्मबीर व कीमती लाल को मृत घोषित कर दिया गया और घायलों का उपचार शुरू किया गया। घायलों में अरुण की हालत चिंताजनक है जबकि इसराना थाना पुलिस ने जांच के बाद धर्मबीर व कीमती लाल के शवों को पोस्टमार्टम के लिए पानीपत के सिविल अस्पताल भिजवा दी। 

पुलिस ने घायलों से पूरे घटनाक्र म की जानकारी ली और पोस्टमार्टम के बाद धर्मबीर व कीमती लाल के शव उनके परिजनों को सौंप दिए। दूसरी ओर पुलिस की जांच में पता चला कि दोनों मृतक अविवाहित थे और अति दलित है। कीमती लाल3 बहनों का इकलौता भाई था। दूसरी ओर ग्रामीणों का आरोप है कि बिजली निगम ने एक हेचरी को बिजली की आपूर्ति करने के लिए गांव डाहर की धानक बस्ती के ऊपर से 11 केवी क्षमता की लाइन बनाई थी। वहीं बिजली लाइन की उंचाई धरती से मात्र 8 फुट ही ऊपर है और बड़ी क्षमता की लाइन में सुरक्षा कवच भी नहीं लगा रखा था। 

Live TV

Breaking News


Loading ...