became Shivaay

‘बोल बम' के उदघोष से ‘शिवमय हुआ नगरी

लखनऊ (उत्तर प्रदेश): आदि देव ‘महादेव’ और शक्ति की देवी ‘पार्वती’ के शुभ विवाह के मंगल प्रतीक ‘शिवरात्रि’ के अवसर पर गुरुवार को उत्तर प्रदेश ‘शिवमय’ हो गया। मंदिरों में शिवलिंग पर दूध, पानी, फल, फूल, चन्दन, सिंदूर, गुलाल, भांग-धतूर , बेलपत्र चढाने के लिए भक्तगण अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। चारों तरफ भोले बाबा के गीत बज रहे थे। 
बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी, संगम नगरी प्रयागराज, मर्यादा पुरुषोत्तम की नगरी अयोध्या और कान्हा की नगरी मथुरा समेत राज्य के कण-कण में सिर्फ शिव भक्ति ही समायी हुई थी। ‘बोल बम’, ‘हर हर महादेव’, बम बम’ और ‘जय बाबा की' गगनभेदी उदघोष के बीच शिवालयों में अनवरत गूंज रही घंटे की सुरमयी ध्वनि ने समूचे वातावरण को शिवमय बना दिया था। 
चारों तरफ महाकाल का रुद्राभिषेक मंत्रोच्चारण के बीच सम्पन्न तो कहीं प्रशाद के भंडारों का आयोजन किया गया था। इस दौरान आकर्षक ढंग से निकली गई शिव बारातों ने सबका मन मोह लिया। 
 इस अवसर पर कोई अनहोनी घटना न हों इसके लिए मंदिरों में सी.सी.टी.वी. और ड्रोन के द्वारा शिवालयों की निगरानी की जा रही थी। मंदिर के बाहर पुलिसकर्मी यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने में लगे रहे वहीं शिवालयों पर भी वे स्थानीय प्रबंधन के साथ भक्तगणों की कतार को सुव्यवस्थित करने में व्यस्त दिखाई दिए। गंगा,यमुना,गोमती आदि अन्य पावन नदियों के तटों पर भी श्रद्धालुओं का रेला नजर आया। इस मौके पर पुलिस के गोताखोर किसी अप्रिय घटना को टालने के लिए अपनी ड्यूटी दे रहे थे। 

Live TV

Breaking News


Loading ...