The Chief Minister said that all the needy patients should be provided

उत्तर प्रदेश : मुख्यमंत्री ने कहा की सभी जरूरतमंद मरीजों को बेड डी.एम. उपलब्ध करवाए

लखनऊ : कोरोना के दूसरी लहर ने एक तरफ लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है तो दूसरी ओर कुछ लोग ऑक्सीजन और जीवनरक्षक दवाओं को ब्लैक में बेचकर मोटी कमाई कर रहे हैं। इसी दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री जोगी आदित्यनाथ ने सभी जिला अधिकारियों को कई निर्देश दिए हैं। कोरोना संक्रमित होने के कारण बीते दिनों होम आइसोलेशन में होने के बाद भी लगातार समीक्षा कर रहे योगी ने कहा कि कोरोना संक्रमण तेज होने पर अब सभी जिलाधिकारी अपने जनपदों में सेक्टर प्रणाली लागू करें। इसके लिए क्षेत्रवार सेक्टर मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएं। 

उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित कराया जाए कि हर जरूरतममंद मरीज को बेड मिले, सभी को मेडिकल ऑक्सीजन हो या फिर वेंटिलेटर अथवा जीवनरक्षक दवाओं की उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करें, सभी जगह बेड आवंटन और डिस्चार्ज पॉलिसी को प्रभावी ढंग से लागू कराएं। किसी जिले में शासनादेशों का उल्लंघन हुआ तो संबंधित जिलाधिकारी व सी.एम.ओ. की जवाबदेही तय की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों में बीते हफ्ते जनपदवार 200-200 बेड बढ़ाए गए हैं। इससे करीब 15000 बेड बढ़े हैं, कोविड हॉस्पिटल के रूप में नए निजी अस्पतालों को भी जोड़ा जाए। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति बेहतर होती जा रही है। इस दौरान टैंकरों की संख्या भी बढ़ी है। अभी तक 64 टैंकर इसी कार्य में लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा 20 टैंकर विभिन्न जिलों में सीधे अस्पतालों को आपूर्ति कर रहे हैं। भारत सरकार से भी 8 नए टैंकर मिल रहे हैं। इसके अलावा जमशेदपुर से ऑक्सीजन की आपूर्ति कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी जिला अधिकारी ध्यान रखें कि सभी ऑक्सीजन टैंकर जी.पी.एस. से लैस रहें। मुख्यमंत्री ने सभी जिला अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया कि अगर किसी भी तरह की लापरवाही हुई तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

Live TV

Breaking News


Loading ...