Tarun Chugh, Bhavesh Agarwal

तरुण चुघ ने की BJP नेता भावेश अग्रवाल पर हुए हमले की निंदा, कहा- कैप्टन सरकार और पुलिस बनी हुई है मूकदर्शक

चंडीगढ़: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ ने बीजेपी नेता भावेश अग्रवाल पर हुए हमले की निंदा की है। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के राज में पंजाब में लोकतंत्र के साथ धक्का हो रहा है। पंजाब में बीजेपी की मीटिंग को रोकने की लगातार कोशिश की जा रही है, जो बहुत ही निंदनीय है। इससे भी ज्यादा निंदनीय यह है कि कैप्टन सरकार और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पंजाब की शांति को पहले भी आग लगाई थी और आज भी कैप्टन के नेतृत्व में आग लगाई जा रही है। 
चुघ ने कहा कि जो संविधान और लोकतंत्र किसानों को प्रदर्शन करने की इजाजत देता है, वो ही बीजेपी को अपनी बात कहने का भी अधिकार देता है। सारी पार्टियां मिलकर बीजेपी पर हमले कर रही हैं। चुघ ने कहा कि मेरी पंजाब सरकार से विनती है इसे जल्द से जल्द रोका जाए। वोटों के कारण पंजाब का वातावरण खराब करने की कोशिश न की जाए। 

बता दें कि, भावेश अग्रवाल पटियाला-राजपुरा में भाजपा की मीटिंग में हिस्सा लेने पहुंचे थे, जहां किसानों ने उन्हें घेर लिया। इस दौरान किसानों ने भावेश अग्रवाल के साथ हाथापाई की कोशिश भी की। वहीं पुलिस ने काफी मशक्त के बाद उनको वहां से सुरक्षित बाहर निकाला किसानों ने कहा कि वह शांतिपूर्ण भाजपा नेताओं की बैठक का घेराव करने आए थे, लेकिन उन्हें यहां रिवाल्वर दिखाई गई।

गौरतलब है कि, हजारों किसान पिछले साल नवंबर के अंत से तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं। उनकी मांग है कि सरकार इन कानूनों को वापस ले और न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी दे। वहीं सरकार का कहना है कि ये कानून किसानों के हित में हैं। बहरहाल, सरकार और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है जो गतिरोध नहीं तोड़ पाई है।


Live TV

-->

Loading ...