Schools colleges open, Delhi, DDMA guidelines

Delhi में 1 सितंबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, DDMA की नई गाइडलाइंस का करना होगा पालन

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में स्कूल और कॉलेज फिर से खुलने को लेकर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने गाइडलाइन जारी की है। इसके अनुसार दिल्ली में एक सितंबर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खुलेंगे। एक सितंबर से नौंवी से बारहवीं तक की कक्षाओं के लिए स्कूल खुलेंगे। राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मामले कम होने के बाद यह फैसला किया गया है।

DDMA द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस में कहा गया है कि कोविड-19 के नियमों के तहत एक समय पर कक्षा में छात्रों की सीमित मौजूदगी सुनिश्चित करते हुए स्कूलों को समय-सारणी तैयार करनी चाहिए। DDMA ने अपने आदेश में कहा है कि क्षमता के आधार पर प्रति कक्षा अधिकतम 50 प्रतिशत छात्रों को बुलाया जा सकता है।

इसके अलावा दिल्ली के स्कूलों में लंच ब्रेक चरणबद्ध तरीके से हो ताकि एक समय पर अधिक भीड़ ना हो, लंच ब्रेक के लिए छात्रों को खुली जगह में भेजा जाए। DDMA ने कहा कि आपात स्थिति के लिए स्कूल, कॉलेज में क्वारंटीन रूम की स्थापना की जाए। इसके अलावा कोविड-19 कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्रों, शिक्षकों को स्कूल न आने देने के निर्देश दिए गए हैं।

इसके साथ ही स्कूल के गेट, कक्षाओं, प्रयोगशालाओं और जनसुविधाओं वाली जगहों पर हाथ सेनिटाइज करने की व्यवस्था करना अनिवार्य है। बच्चों के एक ग्रुप के स्कूल से निकलने के बाद दूसरे ग्रुप के आने के बीच एक घंटे का अंतराल जरुरी है। सभी प्रमुख स्थानों जैसे क्लास रूम, वॉशरूम पार्किंग, प्रवेश और निकास आदि पर पोस्टर संदेश प्रदर्शित किए जाएं, जिससे कि कोविड उपयुक्त व्यवहार जैसे शारीरिक दूरी और मास्क दिशा निर्देश आदि सुनिश्चित किया जा सकें।

Live TV

-->

Loading ...