classes

प्रदेश के स्कूलों में लौटी रौनक, सभी कक्षाओं के पहुंचे बच्चे

लंबे समय के बाद प्रदेश के स्कूलों में रौनक लौट आई है। पिछले साल मार्च में लॉकडाउन के चलते स्कूलों को बंद किया गया था। अब मार्च में ही लगभग एक वर्ष पश्चात सभी कक्षाएं पुन शुरू हो गई हैं। सोमवार को कक्षा पहली व दूसरी के बच्चे भी विधिवत रूप से स्कूलों में पहुंचे। हालांकि बच्चों की संख्या कुछ कम जरूर थी, पर बच्चों और अभिभावकों का हौंसला सकारात्मक रहा। सभी अध्यापक अब तक तत्परता के साथ एक वर्ष में हुए नुकसान की भरपाई में जुट गए हैं। पिछले माह कक्षा तीसरी से पांचवी तक के बच्चों के लिए स्कूल खोल दिए गए थे। एक मार्च से खोले गए स्कूलों में अब सभी 1 से 12 तक की कक्षाएं विधिवत रूप से चालू हो गई है। हरियाणा प्राइमरी टीचर एसोसिएशन के प्रेस प्रवक्ता विनोद रोहिल्ला ने शिक्षा विभाग के स्कूल खोलने के फैसले का स्वागत करते हुए मांग की है कि कोरोना की वजह से लॉकडाउन में विभाग द्वारा जितने भी एप शुरू किए गए थे, अब उन सभी को बंद कर दिया जाए। सारा काम और सारी रिपोर्ट मैनुअल तरीके से पूर्व की भांति लागू की जाए। भिन्न भिन्न प्रकार के एप और उनके प्रयोग करने के तरीके से अध्यापक और छात्र दोनों ही बहुत मुसीबत और दुविधा की स्थिति में रहते हैं इसलिए अब इनको तुरंत प्रभाव से बंद किया जाना चाहिए।

Live TV

Breaking News


Loading ...