Rajnath Singh , BJP will win , 2022 Assembly Elections

भाजपा 2022 के विधानसभा चुनाव में 2017 से भी ज्यादा सीटें जीतेगी: राजनाथ सिंह

लखनऊः रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को दावा किया कि 2022 में होने वाले उत्­तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी 2017 की अपेक्षा अधिक सीटों पर विजय प्राप्­त करेगी। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में कुल 403 सीटें हैं, 2017 में हुये विधानसभा चुनाव में भाजपा को 312 सीटें जबकि इसके सहयोगी अपना दल (एस) और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को क्रमश: नौ एवं चार सीटें मिली थी । 
  
रक्षा मंत्री ने भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के उद्घाटन भाषण में कहा, ‘भाजपा में सबसे ताकतवर पन्­ना प्रमुख (भाजपा की सबसे निचली इकाई) हैं और समीक्षा करेंगे तो पाएंगे तो यह सिर्फ सत्ता हासिल करने वाले कार्यकर्ताओं का झुंड ही नहीं बल्कि एक जीवंत पार्टी है, जिसका एक राजनीतिक दर्शन है।’ उन्होंने कहा, ‘आप सीना ठोंक कर कह सकते हैं कि दार्शनिक अवधारणा लेकर भाजपा आगे बढ़ी है और सभी दलों का विभाजन हुआ लेकिन आज तक भाजपा का एक बार भी विभाजन नहीं हुआ है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्­तर प्रदेश के मुख्­यमंत्री योगी आदित्­यनाथ के कार्यों की सराहना करते हुए सिंह ने किसानों से कहा कि किसी भी समस्या का समाधान बातचीत के जरिये हो सकता है। 
 
उन्होंने कहा कि 'भाजपा का संकल्प किसानों की आमदनी दोगुनी करना है और किसी भी सूरत में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) समाप्त नहीं होगा। हम सभी किसान परिवार के ही हैं और कृषि जगत के हित के लिए जो होगा उसके संशोधन और समाधान के लिए हम तैयार हैं।' गौरतलब है कि केंद्र सरकार के तीन नये कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर राष्­ट्रीय राजधानी दिल्­ली की कई सीमाओं पर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्­तर प्रदेश के किसान सौ दिन से ज्यादा समय से आंदोलन कर रहे हैं ।
 
रक्षा मंत्री ने चीन के मामले का जिक्र करते हुए कहा, ‘हमारी सेना के जवानों ने शौर्य और पराक्रम के साथ संयम का परिचय दिया है और हम किसी पर आक्रमण करना नहीं चाहते हैं लेकिन अपनी भूमि पर कब्­जा बर्दाश्त नहीं कर सकते।’  सिंह ने दावा किया कि 'भारत को वैश्विक महाशक्ति बनने से दुनिया की कोई ताकत रोक नहीं सकती है।'  उन्होंने कहा, 'मैं उत्­तर प्रदेश की राजनीति में लंबे समय से जुड़ा हूं और जब प्रदेश के कार्यकर्ताओं से बातचीत का अवसर मिलता तो मैं खुद को पद और कद की सीमाओं में नहीं बांधता, मैं यह कहना चाहूंगा कि व्­यक्ति पद और कद से बड़ा नहीं होता बल्कि व्यक्ति का कद कृतियों के कारण बड़ा होता है।''

Live TV

-->

Loading ...