Dy. CM Sukhjinder Singh Randhawa , BSF

Punjab के Dy. CM Sukhjinder Singh Randhawa ने BSF के अधिकार क्षेत्र को आगे बढ़ाने सम्बन्धी केंद्र के फ़ैसले की निंदा की

चंडीगढ़ : BSF एक्ट की धारा 139 में हाल ही में किए गए संशोधन जो संघीय ढांचे पर हमले के समान है, की निंदा करते हुए उपमुख्यमंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने केंद्र सरकार को यह फ़ैसला तुरंत वापस लेने के लिए कहा। आज यहां जारी एक बयान में उन्होंने कहा कि यह तर्कहीन फ़ैसला सीमा सुरक्षा बलों के उभार की भावना के बिल्कुल विरुद्ध है, जो अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर तैनात रहते हैं और रक्षा की अग्रणी पंक्ति के तौर पर काम करते हैं। उन्होंने कहा कि अंदरूनी इलाकों में पुलिसिंग करना सीमा सुरक्षा बलों का काम नहीं है और ऐसा करना अंतर्राष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा प्रति उनकी प्राथमिक ड्यूटी निभाने के सामर्थ्य को कमज़ोर करेगा। उन्होंने कहा कि मामले की हल के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को जल्द मिलेंगे। इस दौरान उन्होंने स्पष्ट कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने न तो यह मुद्दा केंद्र के समक्ष उठाया है और न ही अंतर्राष्ट्रीय सीमा के साथ बी.एस.एफ. के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के लिए कहा है।

उन्होंने केंद्रीय और राज्य की एजेंसियों के दरमियान बेहतर सहयोग की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुए कहा कि गैर-कानूनी गतिविधियों को रोकने के लिए तुरंत कार्रवाई करने के लिए जानकारी सांझा करके ऐसे तालमेल को बढ़ाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि बी.एस.एफ. और पंजाब पुलिस के दरमियान बीते समय में नशे और आतंकवादी माड्यूलों के विरुद्ध सांझा आपरेशन सफलतापूर्वक चलाए गए हैं। इसके इलावा जानकारी सांझा करने और तालमेल बनाने के लिए प्रणालियां पहले ही मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि भारत सरकार की तरफ से मौजूदा प्रबंधों को एकतरफा रूप में बदलने के पीछे राज्य सरकार और संघवाद की भावना को कमज़ोर करने के बिना कोई और वाजिब कारण नहीं हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों के साथ सलाह किए बिना या उनकी सहमति लिए बिना बी.एस.एफ. अधिकारियों को पुलिस अधिकारियों की शक्तियां देकर केंद्र सरकार संविधान के संघीय ढांचे को तोड़ने की कोशिश कर रही है।

Live TV

-->

Loading ...