Odisha, pilgrim puri, corona virus, lord jagannath temple

तीर्थनगरी पुरी में भीड़ को रोकने के लिए रथयात्रा के दौरान रहेगी निषेधाज्ञा, सेवक ही खीचेंगे तीनों रथ

पुरीः उड़ीसा की विश्व प्रसिद्ध तीर्थनगरी पुरी में रथयात्रा के मौके पर व श्रद्धालुओं की भीड़ को रोकने के लिए 11 जुलाई से 2 दिन के लिए निषेधाज्ञा लागू रहेगी और भगवान जगन्नाथ मंदिर को जोड़ने वाली ग्रैंड रोड समेत सभी सड़कों को सील कर दिया जाएगा। मंदिर प्रशासन की आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि इस बार केवल सेवक ही तीनों रथों को खीचेंगे। 

बता दें कि, बैठक में रथ यात्रा के आयोजन के संबंध में अन्य निर्णय भी लिए गए। जगन्नाथ मंदिर के मुख्य प्रशासक डॉ. कृष्ण कुमार ने कहा कि केवल आरटी-पीसीआर परीक्षण में नेगेटिव रिपोर्ट वाले सेवकों को ही रथयात्रा में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी। इसके साथ ही मंदिर के अधिकारियों और पुलिसकर्मियों के अलावा लगभग 2200 सेवकों को कार उत्सव से पहले कोविड परीक्षण से गुजरना होगा। 

मंदिर प्रशासन की ओर से करीब 6,000 लीटर सैनिटाइजर खरीदे जा चुके हैं। सेवादारों को रथ खींचने से पहले सैनिटाइजर और एक-एक तौलिया दिया जाएगा। सेवादारों को कैमरों के साथ मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी और उन्हें रथों पर सेल्फी लेने से रोक दिया जाएगा। 




Live TV

-->

Loading ...