People upset with

बिलावर में लावारिस पशुओं से लोग परेशान

बिलावर : उपजिला बिलावर के विभिन्न भागों में लगातार बढ़ रहे लावारिस पशुओं के चलते लोग काफी परेशान हैं लेकिन प्रशासन खामोश बैठा हुआ है। विशेष तौर पर सुबह-सवेरे सैर करने वाले लोग इन लावारिस पशुओं का सबसे अधिक शिकार हो रहे हैं। इलाके के लोगों ने स्थानीय प्रशासन और विशेष तौर पर म्यूनिसिपल कमेटी से मांग की है कि जल्द से जल्द इन लावारिस पशुओं के लिए कोई उचित व्यवस्था की जाए ताकि लोगों को परेशान न होना पड़े। प्रेम चंद, मुंशी राम, रसाल सिंह, मोहम्मद शफी व अन्य लोगों ने बताया कि तहसील के क्षेत्रों  विशेष तौर पर उपजिला मुख्यालय पर पिछले कुछ अर्से के दौरान लावारिस पशुओं की संख्या में काफी बढ़ौतरी हुई है, जब कोई पशु किसी किसान के काम का नहीं रहता है तो वह उसे नगर में आकरछोड़ जाते हैं। अक्सर इन लावारिस व्  पशुओं को सुबह सवेरे बस अड्डा, शिव मंदिर व मुख्य बाजार आदि स्थानों पर घूमते हुए देखा जा सकता है। 

यह लावारिस पशु न केवल नगर में गंदगी फैलाने में सबसे अधिक योगदान दे रहे हैं बल्कि आए दिन यह राहगिरों विशेषतौर पर वृद्धों, बच्चों आदि पर हमले हो रहे हैं। पिछले कुछ अर्से में यह लावारिस पशु कई लोगों पर हमला कर उन्हें घायल कर चुके हैं। विशेष तौर पर सुबह शाम सैर करने वाले लोगों के लिए लावारिस कुत्ते सबसे बड़ा खतरा साबित हो रहे हैं। बस अडडा, नाज पुल, किश्नुपर रोड पर बड़ी संख्या में लावारिस कुत्ते दिन-रात घूमते रहते हैं, जो आए दिन राहगीरों के लिए मुश्किलें पैदा कर रहे हैं। इनके लावारिस पशुओं के हमले के डर से लोगों ने सुबह-शाम सैर पर निकलना बंद कर दिया है। 

यही नहीं यह लावारिस पशु कई बार स्कूल जाने वाले छोटे-छोटे बच्चों को अपना निशाना बना चुके हैं। इन लोगों ने स्थानीय प्रशासन और विशेष तौर पर म्यूनिसिपल कमेटी के अधिकारियों से अपील करते हुए कहा है कि वह जल्द से जल्द इन लावारिस पशुओं की समस्या से निपटने के लिए कोई उपाय करें ताकि इलाके के लोग बिना किसी खौफ के नगर में आ सकें।

Live TV

Breaking News


Loading ...