Chief Granthi and others in Sri Harmandir Sahib Patna, situation tense

Patna : श्रीहरमंदिर साहिब पटना में मुख्य ग्रंथी सहित अन्य के सेवानिवृत्त करने की घोषणा पर मारपीट, स्थिति तनावपूर्ण

पटना (बिहार) : श्रीहरमंदिर साहिब पटना में शुक्रवार की रात गुरुद्वारा संविधान के विरुद्ध मुख्य ग्रंथी, अधीक्षक सहित अन्य के सेवानिवृत्त करने की घोषणा पर धक्का-मुक्की की घटना सामने आई है। इस दौरान प्रबंधक समिति के सदस्य ने अध्यक्ष के हाथ से माइक छीन लिया, धक्का-मुक्की में अध्यक्ष मंच पर गिर गए,  और मारपीट होने लगी। इस दौरान कमेटी के अध्यक्ष और महासचिव द्वारा 63 वर्ष की उम्र पूरी कर चुके सेवादारों को सेवानिवृत्त कर दिए जाने के फैसले का विरोध हो रहा है, इस पर प्रबंधक कमेटी के सदस्य राजा सिंह के नेतृत्व में सेवादारों द्वारा गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष अवतार सिंह और महासचिव इंद्रजीत सिंह के साथ किए गए दुर्व्यवहार और मारपीट को लेकर तख्त श्री हरमंदिर में तनावपूर्ण स्थिति है। अनुमंडल प्रशासन द्वारा तख्त श्री हरमंदिर परिसर में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। 

कमेटी के महासचिव इंद्रजीत सिंह ने पूरे मामले पर पूर्व जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए उनके इशारे पर ही मारपीट कराए जाने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि 22 अक्टूबर को महामहिम राष्ट्रपति का तख्त श्री हरिमंदिर आगमन है, ऐसे में विरोधी गुट द्वारा जान-बूझकर गुरुद्वारा परिसर में शांति भंग करने की कोशिश की जा रही है। इस दौरान महासचिव ने पुलिस प्रशासन से दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई किए जाने की भी मांग की है।बता दें कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश के फैसले के विरोध में गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने पटना उच्च न्यायालय में पीटीशन दाखिल कर फैसले पर रोक लगाए जाने की मांग की है। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के इस फैसले से गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी 2 भागों में बांट गई है और दोनों गुटों में एक-दूसरे के खिलाफ गहरा आक्रोश व्याप्त है। 

Live TV

-->

Loading ...