Oscar Best Director winner

फिल्म छांग चिग झील लड़ाई पर ऑस्कर सर्वश्रेष्ठ निर्देशक विजेता की टिप्पणी

19 अक्तूबर को चीनी फिल्म छांग चिग झील लड़ाई की बॉक्स ऑफिस कमाई बीस दिन में 5 अरब युआन को पार कर गयी है। इस फिल्म में पिछली सदी के 50वें दशक में हुए कोरिया युद्ध में छांग चिन झील क्षेत्र में हुई एक घमासान लड़ाई का वर्णन किया गया है ।हाल ही में आस्कर सर्वश्रेष्ठ निर्देशक विजेता ऑलिव स्टोन ने सीजीटीएन के साथ एक हिट फिल्म को लेकर एक बातचीत की ।

ऑलिव ने बताया कि वे कोरिया युद्ध से आकर्षित हैं ,जो लगभग एक भुलाया गया युद्ध है। जब जनरल डगलस मैकआर्थर ने अमेरिकी सेना को उत्तर कोरिया में भेजा और कई बार चीन को बमबारी करने यहां तक कि नाभिकीय बम छोड़ने की धमकी दी ,तो चीन ने बड़े पैमाने पर कोरिया में सेना भी भेजी ।छांग चिन झील लड़ाई उस समय शुरु हुई ,जो अत्यतं खूंखार थी ।चीनी सेना को भारी नुकसान हुआ और अमेरिकी सेना भी इतने घमासान युद्ध के लिए तैयार नहीं थी ।दो-तीन साल के बाद युद्ध समाप्त हुआ ।लेकिन अमेरिका ने कोरिया युद्ध से कुछ भी नहीं सीखा ।कोरिया युद्ध सिर्फ कम्युनिज्म के विरुद्ध था ।बाद में हुआ वियतनाम युद्ध भी ऐसा था ।

वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय परिस्थिति की चर्चा में स्टोन ने बताया कि हमारे समाचार में चीन हमेशा बदमाश की छवि से निकलता है ।यह बचकाना रवैया है ।अमेरिका अपनी मीडिया को नियंत्रित करता है ।कई रिपोर्टें राजनीतिक प्रचार के लिए इस्तेमाल करता है ।इसलिए हम चीन के बारे में कुछ नकारात्मक समाचार सुनते हैं ।उदाहरण के लिए हुआ वेइ कंपनी बहुत खराब है ।कुछ मीडिया ने शिनच्यांग में तथाकथित जातीय नरसंहार का आरोप लगाया ।यह पागल है और सिर्फ राजनीतिक प्रोपेगैंडा है ।कोई प्रमाण नहीं है ।चीन को बदनाम करने के लिए अमेरिका हरसंभव कोशिश कर रहा है ।अमेरिका ने एशिया में अधिक सेना भेजने का वादा भी किया ।अमेरिकी लोग फिर से राजनीतिक प्रचार स्वीकार करने लगे हैं।कौन जानता है कि भविष्य में क्या होगा ।(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग) 

Live TV

-->

Loading ...