Coronavirus, Covid-19, Vaccination, Bangladesh

Bangladesh में पिछले 3 दिनों में हर 14 मिनट पर जा रही एक की जान

ढाकाः बांग्लादेश में जहां कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 10,385 है, वहीं पिछले 3 दिनों में हर 14 मिनट में एक संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई है। रविवार को देश में 18 मार्च, 2020 के बाद पहली बार सबसे ज्यादा मरने वाले लोगों की संख्या 102 दर्ज की गई। शनिवार और शुक्रवार को दोनों दिन 101 नई मौतें हुईं। मरने वालों में 59 पुरुष और 43 महिलाएं थीं। उनमें से 63 लोगों की उम्र 60 वर्ष से अधिक थी, 23 की आयु सीमा 51-60 के बीच थी। 14 की आयु 41-50 के बीच थी और दो लोगों की उम्र 31-40 के बीच थी।

पीड़ितों में से 68 ढाका से, 22 चटगांव से, म्यामांरसिंह और बारिसल से 4, राजशाही में 3 थे। 7 दिनों के प्रतिशत के मुकाबले रविवार को मरने वालों की संख्या 92.2 प्रतिशत तक बढ़ गई। इस बीच 1,000 बेड क्षमता वाले ढाका नॉर्थ सिटी कॉरपोरेशन (डीएनसीसी) अस्पताल का उद्घाटन रविवार सुबह संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ समर्पित किया गया। उद्धाटन पर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री जाहिद मालेक ने बताया कि बांग्लादेश दुनिया के अन्य देशों की तरह महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और देश के लगभग सभी अस्पताल कोविड-19 रोगियों से भरे हुए हैं, क्योंकि संक्रमण और मृत्यु की संख्या भी बढ़ रही हैं।’’ 

कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करना जरूरी है। सरकार ने डीएनसीसी अस्पताल कोरोना मरीजों की जिंदगी की सुरक्षा के लिए सभी आधुनिक उपकरणों को स्थापित करने के लिए कम समय में तैयार किया है।’’ बांग्लादेश में महामारी की दूसरी लहर को देख सरकार ने 5 अप्रैल से एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लागू किया था।

14 अप्रैल से शुरू हुआ लॉकडाउन का दूसरा चरण 21 अप्रैल की मध्यरात्रि तक जारी रहेगा। कोविड-19 नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी ने रविवार को बैठक में कहा कि लॉकडाउन की समाप्ति के बाद की स्थिति को देखते हुए अगला निर्णय लिया जा सकता है। सलाहकारों ने लॉकडाउन निकास योजना को धीरे-धीरे तैयार करने का भी सुझाव दिया।रविवार दोपहर तक कुल 56 लाख लोगों ने पहली खुराक ली और 11,00000 लाख लोगों ने कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक ली। मृत्यु दर 1.44 प्रतिशत पर बनी हुई है, जबकि रिकवरी दर गिरकर 85.5 प्रतिशत हो गई है। वहीं, देश का कोरोना के कुल मामले 7,18,950 हैं।

 

Live TV

-->

Loading ...