Navjot Singh Sidhu, Arvind Kejriwal

नवजोत सिद्धू ने फिर लगाई ट्वीट की झड़ी, बिजली में दिल्ली और पंजाब मॉडल का समझाया फर्क

चंडीगढ़ः पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्विटर पर लगातार ट्वीट की झड़ी लगाते हुए कईं सुझाव दिए और तंज भी कसे हैं। पहले ट्वीट में उन्होंने कहा कि, नीति पर काम किए बिना राजनीति करना केवल नकारात्मक प्रचार की शैली में आता है। इस तरह की राजनीति करने वाले आम लोगों के लिए कुछ नहीं करते बल्कि अपनी गर्ज के लिए राजनीति में आए हैं। हमें पंजाब के विकास के लिए उत्तम मॉडल की जरुरत है। 

सिद्धू ने कहा कि पंजाब के लोगों पर महंगी बिजली का बोझ डालने के लिए बादल सरकार द्वारा किए गए बिजली समझौते ही पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। जिनके अधीन 2 दशकों तक राज्य के लोग इसका भुगतान करने के लिए बाध्य है। उन्होंने कहा कि दिल्ली मॉडल पर भी भरोसा करना ठीक नहीं है क्योंकि दिल्ली में बिजली उत्पादन का कोई सरकारी साधन नहीं है। जबकि पंजाब खुद 25 फीसद बिजली उत्पादन करता है। दिल्ली में बादल सरकार के मुकाबले अधिक निजी क्षेत्र को बढ़ावा दिया गया है। पंजाब में जबकि राज्य के स्वामित्व वाली कार्पोरेशन के जरिए हजारों लोगों को रोजगार मिलता है। 

सिद्धू ने ट्वीट में आंकड़े पेश करते हुए बताया कि, पंजाब अपने बजट का 10 फीसद यानि 10,668 करोड़ रुपये बिजली सब्सिडी देता है, जबकि दिल्ली अपने बजट का 4 फीसद मतलब 3080 करोड़ रुपये सब्सिडी देता है। पंजाब में कृषि के अलावा 15 लाख परिवारों जिनमें एससी, बीसी और बीपीएल को 200 यूनिट मुफ्त बिजली दी जाती है, लेकिन दिल्ली 50 फीसद लोगों से 400 यूनिट और इससे अधिक का बिल वसूल करता है।

Live TV

-->

Loading ...