fire

सुंदरबनी के जंगलों में लगी भीषण आग, लाखों रुपए की वृक्षारोपण योजना राख में तबदील

सुंदरबनी के जंगलों में लगी आग भयंकर रूप धारण कर चुकी है। पिछले कुछ दिनों से सुंदरबनी के आसपास के जंगलों में लगी भीषण आग से वन संपदा को भारी नुकसान पहुंच रहा है। प्रचंड गर्मी और उमस के इस मौसम में जंगलों में लगी भीषण आग के आगे वन विभाग बेबस हो चुका है। पिछले कुछ दिनों से जंगलों में लगी भीषण आग से जंगल धू-धू कर धधक रहे हैं। आग का विकराल रूप देख जंगलों के आसपास के गांव में हड़कंप मच गया है। 

आग से लाखों रु पए की वृक्षारोपण योजना राख में तब्दील हो गई है। वन विभाग के आग पर काबू पाने के तमाम प्रयास विफल हो चुके है। अभी तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। खबर लिखे जाने तक सुंदरबनी के भजभाल के जंगलों में आग का कहर लगातार जारी था। दरअसल जंगलों की आग से न केवल प्रकृति झुलसती है, बल्किप्रकृति के प्रति हमारे व्यवहार पर भी सवाल खड़ा होता है। गर्मियों के मौसम में जम्मू-कश्मीर के जंगलों में आग लगने की घटनाएं अक्सर प्रकाश में आती रहती हैं। जंगलों में लगी आग से जान-माल के साथ-साथ पर्यावरण को भारी नुकसान होता है। 

पेड़-पौधों के साथ-साथ जीव जन्तुओं की विभिन्न प्रजातियां जलकर राख हो जाती हैं। जंगलों में विभिन्न पेड़- पौधे और जीव-जन्तु मिलकर समृद्ध जैवविविधता की रचना करते हैं। पहाड़ों की यह समृद्ध जैवविविधता ही मैदानों के मौसम पर अपना प्रभाव डालती हैं। दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि ऐसी घटनाओं के इतिहास को देखते हुए भी कोई ठोस योजना नहीं बनाई जाती है। जिससे हर साल जंगलों में भीषण आग से हजारों लाखों रु पए की वन संपदा को भारी नुकसान पहुंचता है।

Live TV

Breaking News


Loading ...