Mahashivratri, fasting

Mahashivratri Special: इस बार बन रहा है विशेष योग, व्रतधारी जानें इसके शुभ मुहूर्त और लाभ

महशिवरात्रि का पर्व भगवान शिव जी के लिए सबसे खास और महत्वपूर्ण माना गया है, यही नहीं बल्कि हिन्दू धर्म में महशिवरात्रि का बहुत बड़ा महत्व भी है। बता दें की इस बार महशिवरात्रि का पावन पर्व 11 मार्च गुरूवार के दिन आ रहा है। इस दिन भगवान शिव की पूजा अर्चना की जाती है और इस दिन भक्त उपवास भी रखते हैं। जो कोई भी इस दिन भगवान शिव की दिल से पूजा-अर्चना करता है उसे भगवान प्रसन्न हो कर मन चाहा वरदान देते हैं। यही नहीं बल्कि उसका जिसवां खुशियों से भर जाता है और किसी भी प्रकार की बाधा का सामना नहीं करना पड़ता है। 

इस बार महाशिवरात्रि के दिन कई शुभ योग का निर्माण हो रहा है। दरअसल महाशिवरात्रि के दिन पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि रहेगी। इसी वजह से इस दिन शिव योग का निर्माण हो रहा है। इसके अलावा इस दिन नक्षत्र घनिष्ठा रहेगा और चंद्रमा मकर राशि में विराजमान होने वाला है। चलिए अब जानते हैं इस बार महाशिवरात्रि पर बन रहे पूजा मुहूर्त और व्रत के बारे में कुछ खास। 

महाशिवरात्रि पूजा मुहूर्त- समय
महाशिवरात्रि पूजा मुहूर्त : 24:06:41 से 24:55:14 तक।
महाशिवरात्रि पारणा मुहूर्त : 06:36:06 से 15:04:32 तक।

महाशिवरात्रि व्रत का लाभ - कहा जाता है महाशिवरात्रि के दिन व्रत रखने से सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं। इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से हर मनोकामनाएं पूरी हो जाती है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन व्रत और पूजा करने से मनचाहे वर की प्राप्ति होती है। कहते हैं जिन कन्याओं के विवाह में देरी हो रही है, या किसी प्रकार की बाधा आ रही है तो उन्हें महाशिवरात्रि का व्रत रखना चाहिए क्योंकि यह उनके लिए विशेष फलदायी माना गया है। वैसे इस व्रत को करने से भगवान शिव का आर्शीवाद मिलता है और जीवन में सुख, शांति और समृद्धि का आगमन होता है। 

Live TV

Breaking News


Loading ...