Latif

Sharajeel के लिए अंतिम एकादश में जगह बनाना बहुत मुश्किल : Latif

कराची, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ के अनुसार बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज शरजील खान के लिए पाकिस्तान की अंतिम एकादश टीम में जगह बनाना बहुत मुश्किल होगा। 31 साल के शरजील की चार साल बाद पहली बार पाकिस्तान क्रिकेट टीम में वापसी हुई है। उन्हें अप्रैल और मई में दक्षिण अफ्रीका तथा जिम्बाब्वे दौरे पर होने वाली टी20 मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान टीम में चुना गया है। लतीफ ने अपने यूटय़ूब चैनल पर कहा, ‘‘मुझे लगता है कि चयन समिति या बल्कि मिस्बाह और मोहम्मद वसीम ने भले ही शरजील को टीम में शामिल किया है, लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में चुनना मुश्किल होगा। हमारे पास पहले से ही रिजवान और बाबर हैं। मुझे लगता है कि शरजील को टीम में शामिल तो कर लिया गया है, लेकिन वह अंतिम एकादश में खेलेंगे नहीं।’’ 

स्पॉट फिक्सिंग के कारण शरजील करीब ढाई साल तक क्रिकेट से दूर थे, लेकिन पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में शानदार प्रदर्शन के कारण उन्हें राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया है। पीएसएल में वह मोहम्मद रिजवान और बाबर आजम के बाद तीसरे टॉप स्कोरर थे। शरजील ने पीएसएल-6 में पांच मैचों में 200 रन बनाए थे। कोरोना के कारण पीएसएल-6 को स्थगित कर दिया गया है। पूर्व कप्तान का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अगर पहले दो टी20 मैच में बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान संघर्ष करते हैं तो फिर शरजील को मौका दिया जाना चाहिए। 

लतीफ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले दो टी20 मैच में हम मौजूदा सलामी जोड़ी के साथ ही खेलेंगे। लेकिन अगर परिणाम हमारे पक्ष में नहीं रहता है तो फिर शरजील को शामिल किया जाना चाहिए।’’ पाकिस्तान को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर तीन वनडे और चार टी20 मैच खेलना है। इसके बाद वह जिम्बाब्वे का दौरा करेगी, जहां उसे दो टेस्ट और तीन टी20 मैच खेलने हैं। पाकिस्तान का दक्षिण अफ्रीका दौरा दो से 16 अप्रैल तक का होगा, जबकि जिम्बाब्वे दौरा 17 अप्रैल से 12 मई तक का होगा।

Live TV

-->

Loading ...