International Big Data Expo launched

चीन में अंतर्राष्ट्रीय बिग डेटा एक्सपो का शुभारंभ

आज के दौर में हर क्षेत्र में बिग डेटा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स (आई.ओ.टी.) आदि का उपयोग बहुत ज्यादा बढ़ गयाहै।चीन ने इस क्षेत्र में बहुत कुछ किया है और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अग्रणी बनता जा रहा है। जाहिर है, चीन को इन चीज़ों की महत्ता का एहसास है और वह उस पर खासा जोर दे रहा है। दक्षिण-पश्चिम चीन के कुइचोउ प्रांत में बुधवार को बिग डेटा पर एक अंतरराष्ट्रीय एक्सपो शुरू हुआ जिसमें संबंधित क्षेत्र में अत्याधुनिक वैज्ञानिक और तकनीकी नवाचारों और उपलब्धियों का प्रदर्शन किया गया। आयोजन समिति की माने तो प्रांतीय राजधानी कुइयांग में चल रहे 3 दिवसीय चाइना इंटरनेशनल बिग डेटा इंडस्ट्री एक्सपो ने देश-विदेश से 225 उद्यमों को आकर्षित किया है। हालांकि, बिग डेटा उद्योग एक्सपो चीन में अपनी तरह का पहला एक्सपो है और साल 2015 के बाद से 5 बार कुइयांग में आयोजित किया गया है। 

साल 2019 में एक्सपो ने 59 देशों और क्षेत्रों के 448 उद्यमों को आकर्षित किया जिसमें लगभग 100.8 अरब युआन के अनुबंधों पर हस्ताक्षर किए गए। इससे साफ झलकता है कि चीन एक बहुत बड़ा संभावित बाजार है। खासतौर पर आई.टी. उद्योग के क्षेत्र में। फिलहाल, "डिजिटल इंटेलिजेंस का आलिंगन, नव विकास प्रदत्त" विषय के तहत इस साल का एक्सपो ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से निर्धारित है। आयोजकों ने पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण इस कार्यक्रम को रद्द कर दिया था। लेकिन इस साल एक्सपो में डेटा सुरक्षा, डिजिटल सेवाओं और उद्योगों के डिजिटलीकरण जैसे विषयों पर चर्चा के लिए 6  उच्च स्तरीय संवाद होंगे। चीन के पहले बिग डेटा पायलट क्षेत्र के रूप में, कुइचोउ के पहाड़ी प्रांत ने क्लाउड कंप्यूटिंग और बिग डेटा केंद्रों के साथ-साथ क्षेत्रीय मुख्यालयों को स्थापित करने के लिए एप्पल, हुआवेई और टेनसेंट सहित दिग्गजों को आकर्षित किया है।

(लेखक : अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंगमें पत्रकार हैं)