In Azamgarh, the Anti-Corruption team

Azamgarh में Anti Corruption टीम ने Secretary को घूस लेते पकड़ा, भुगतान के नाम पर मांगा था रकम

आजमगढ़ (उत्तर प्रदेश) : एंटी करप्शन टीम ने रजादेपुर तिराहे से 10000 रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। उसने पूर्व प्रधान से भुगतान के नाम पर रुपए की मांग की थी। आजमगढ़ ब्लाक के पुरुषोत्तमपुर गांव के पूर्व प्रधान अवधेश गौतम ने इसकी शिकायत एंटी करप्शन थाना गोरखपुर में की थी। थाना प्रभारी रामधारी मिश्रा के नेतृत्व में टीम जिले में पहुंची तो लेन-देन की जगह रजादेपुर तिराहा तय हुई। बात पक्की हुई तो टीम ने रयासन लगे नोट को पूर्व प्रधान को थमाया। आरोपी सेक्रेटरी श्री राम निवासी मधुबन वहां पूर्व प्रधान के आने का इंतजार कर रहा था। अवधेश ने जैसे ही सेक्रेटरी काे रुपए दिए, तब तक आसपास खड़े टीम के सदस्यों ने उसे दबोच लिया। 

इस दौरान पूर्व प्रधान ने बताया कि हमारे समय में गांव में सामुदायिक शौचालय, दिव्यांग शौचालय, प्राइमरी विद्यालय के कायाकल्प कराया गया था। डोंगल से फंड रिलीज के लिए सेक्रेटरी 10000 रुपए की मांग कर रहा था। पूर्व प्रधान ने बताया कि इससे पहले हमने सामाजिक संगठन प्रयास को अपनी पीड़ा बताई थी, तो वह लोग एंटी करप्शन थाने में शिकायत की सलाह देने के साथ ही हमें लेकर गोरखपुर तक गए। टीम के अनुसार इस बाबत पूर्व में भी शिकायत मिल रही थी, शिकायत के आधार पर इस मामले में टीम ने जांच शुरू की तो प्रकरण सही पाया गया। इसके बाद आनन-फानन टीम ने जाल बिछाकर सेक्रेटरी को पकड़ लिया। उसके पास से ही उक्त बरामद भी किए गए। 

Live TV

Breaking News


Loading ...