case filed against 8 including husband

BULANDSHAHR में पंचायत में पति ने दिया तीन तलाक, पति सहित 8 पर केस दर्ज

बुलंदशहर (उत्तर प्रदेश) : बुलंदशहर के ऊंचा गांव में विवाहिता जीनत को बेटी पैदा होने पर तथा दहेज में 5 लाख रुपए की मांग पूरी न होने पर पति हाशिम सैफी ने उसे घर से निकाल दिया है। इतना ही नहीं पंचायत में जीनत को हाशिम सैफी ने तीन तलाक दे दिया। इस दौरान पीड़िता ने पति समेत 8 लोगों के खिलाफ थाना में केस दर्ज करवाई है। थाना नरसेना क्षेत्र के गांव ऊंचा गांव निवासी सरफुद्दीन की पुत्री जीनत का निकाह जहांगीराबाद निवासी हाशिम सैफी पुत्र साबुद्दीन सैफी के साथ करीब 3 वर्ष पूर्व मुस्लिम रीति-रिवाज के अनुसार किया था। शादी के बाद जीनत ने एक बेटी को जन्म दिया, जिससे पति बेटा न होने दहेज की मांग पूरी न होने से खफा था। 

इस दौरान जीनत के ससुरालजनों ने उसको मारपीट कर प्रताडि़त करने लगे और दहेज में 5 लाख रुपए की मांग पूरी न करने पर घर से निकाल दिया। मामला महिला सैल में पहुंचा तो दोनों पक्षों में समझौता कराने के लिए ऊंचा गांव में पंचायत बुलाई गई। इस सम्बन्ध में पीडि़ता ने एस.एस.पी. से शिकायत कर रिपोर्ट दर्ज करने की गुहार लगाई है, जिस पर एस.एस.पी. ने नरसेना पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। 

पुलिस ने पीडि़ता के पति हाशिम सैफी, सास आमना, ससुर साबुद्दीन, जेठानी रिजवाना, जेठ आरिफ, देवर आमिर, ननद रुमिश व नंदोई सिराज निवासी जहांगीराबाद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी प्रताप सिंह ने बताया कि एस.एस.पी. के आदेश पर तीन तलाक और दहेज उत्पीडऩ का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Live TV

Breaking News


Loading ...