Harish Rawat, Dalit Chief Minister, Uttarakhand

उत्तराखंड में दलित मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं Harish Rawat

लक्सर (उत्तराखंड) : पंजाब में एक दलित मुख्यमंत्री के बाद कांग्रेस महासचिव और अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ने कहा कि वह उत्तराखंड में एक दलित को मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं, जहां अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने लक्सर में एक परिवर्तन यात्र को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘इतिहास पंजाब में नहीं, बल्कि पूरे उत्तर भारत में बनाया गया है, और जब पंजाब के मुख्यमंत्री अपनी पारिवारिक पृष्ठभूमि के बारे में बात कर रहे थे, तो हर किसी की आंखों में आंसू थे।’’

जबकि राज्य में लगभग 23 प्रतिशत दलित आबादी है, रावत के बयान का असर हो सकता है, क्योंकि कांग्रेस का लक्ष्य उत्तराखंड में वापस आना है। राज्य के गठन के बाद से कांग्रेस ने तीन मुख्यमंत्रियों की नियुक्ति की है, दो - एन.डी. तिवारी और विजय बहुगुणा ब्राह्मण थे, जबकि रावत एक राजपूत हैं।

राज्य में अगले साल चुनाव होने हैं, लेकिन कांग्रेस खेमों में बंट गई है। राज्य में विपक्ष के नेता प्रीतम सिंह का खेमा है, जबकि रावत दूसरे खेमे का नेतृत्व कर रहे हैं। हाल की नियुक्तियों में रावत अपने कट्टर वफादार गणोश गोंडियाल को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने में सफल रहे।




Live TV

-->

Loading ...