Foreign Ministers

लानछांग नदी-मेकांग नदी सहयोग का विदेश मंत्री सम्मेलन आयोजित

लानछांग नदी-मेकांग नदी सहयोग का छठा विदेश मंत्री सम्मेलन 8 जून को दक्षिण पश्चिमी चीन के केंद्र शासित शहर छोंगछिंग में आयोजित हुआ। चीनी विदेश मंत्री वांग यी और म्यांमार के विदेश मंत्री वुन्ना मउंग ल्विन ने संयुक्त रूप से इसकी अध्यक्षता की। सम्मेलन में लाओस, कंबोडिया, थाईलैंड और वियतनाम के विदेश मंत्री भी उपस्थित हुए।  

वांगयी ने कहा कि लानछांग-मेकांग सहयोग नदी क्षेत्र के छह देशों द्वारा सह-निर्माण और साझा करने के लिए स्थापित नए उप-क्षेत्रीय सहयोग तंत्र है। उसकी स्थापना के बाद से पिछले पाँच सालों के तेज़ विकास से सहयोग बहुत फलदायी है, जिसका श्रेय निम्न क्षेत्रों को जाता है, यानी कि पड़ोसी मित्रवत सहयोग वाले सिद्धांत का कार्यान्वयन करना, विकास को प्राथमिकता देने वाले सहयोग उद्देश्य पर डटा रहना, आपसी लाभ और उभय जीत वाली सहयोग अवधारणा का अभ्यास करना और जन-जीवन के आधार पर सहयोग करना।  
 
वांगयी ने कहा कि चीन अन्य पाँच देशों के साथ मिलकर“एक ही नदी के पानी पीने और घनिष्ठ नियति जोड़ने”वाली लानछांग-मेकांग भावना को बनाए रखते हुए अच्छे पड़ोसी जैसे मैत्री और वास्तविक सहयोग को गहराना चाहता है, ताकि लानछांग-मेकांग सहयोग के नए “स्वर्णिम पाँच साल” फिर शुरु किया जा सके। सम्मेलन में उपस्थित पाँच देशों के विदेश मंत्रियों ने माना कि लानछान-मेकांग सहयोग चुनौतियों के मुकाबले के लिए मददगार सिद्ध होता है। 

उन्होंने कहा कि वे लानछान-मेकांग सहयोग को मजबूत करते हुए आपस में विकास रणनीति को सक्रिय रूप से जोड़ना चाहते हैं, आधारभूत संस्थापनों के निर्माण और आपसी संवाद व संपर्क को मजबूत करना चाहते हैं, शिक्षा, युवा और स्थानीय सहयोग को बढ़ावा देना चाहते हैं, अन्य क्षेत्रीय और उप क्षेत्रीय तंत्रों के बीच आपसी आपूर्ति और पारस्परिक संवर्धन को मजबूत करना चाहते हैं, ताकि आपली लाभ और समान समृद्ध साकार हो सके। 

(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

Live TV

-->

Loading ...