Flipkart inks agreement

Flipkart ने Mahindra Logistics से किया करार, इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल पर दिया जोर

मुंबई, वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट डिलिवरी के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल पर जोर दे रही है। इसी उद्देशय़ से कंपनी ने महिंद्रा लॉजिस्टिक्स के साथ भागीदारी की है। फ्लिपकार्ट डिलिवरी के लिए अपने बेड़े में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या को 2030 तक बढ़ाकर 25,000 करेगी। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में यह जानकारी दी गई है। महिंद्रा समूह की लॉजिस्टिक्स इकाई पहले ही अंतिम छोर तक आपूर्ति सेवा ‘ईडीईएल’‘ शुरू कर चुकी है। 

यह सेवा 6 शहरों में शुरू की गई है। उसने इस तरह की सेवाएं उपलब्ध कराने को उपभोक्ता और ई-कॉमर्स क्षेत्र की कंपनियों के साथ गठजोड़ किया है। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा गया है कि महिंद्रा लॉजिस्टिक्स विभिन्न मूल उपकरण विनिर्माताओं (ओएईएम) के साथ काम कर रही है और फ्लिपकार्ट को ईवी की ओर बदलाव में मदद कर रही है। फ्लिपकार्ट ने आपूर्ति श्रृंखला में दोपहिया और तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहन जोड़ने के लिए पहले ही कई ओईएम के साथ भागीदारी की है। 

कंपनी ने कहा कि महिंद्रा लॉजिस्टिक्स ईडीईएल के साथ भागीदारी से वह इलेक्ट्रिक वाहनों के जरिये डिलिवरी बढ़ाने के अपने लक्षय़ को तेजी से हासिल कर पाएगी। ईडीईएल की मौजूदगी बेंगलुरु, मुंबई, दिल्ली, पुणो, कोलकाता और हैदराबाद जैसे शहरों में है। कंपनी का इरादा इस साल के अंत तक देश के शीर्ष 20 शहरों में पहुंचने का है। 

Live TV

Breaking News


Loading ...