Farmers protest in Delhi

Delhi में किसान प्रदर्शन की वजह से सड़क जाम, कई जगहों पर यातायात ठप

नई दिल्लीः दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रेक्टर रैली के दौरान सैकड़ों प्रदर्शनकारी लाल किले में घुस गए, जबकि पुलिस ने इन किसानों को सेंट्रल दिल्ली जाने से रोकने की कोशिश की। इस दौरान विभिन्न जगहों पर भारी जाम लग गया।

आईटीओ क्षेत्र में पुलिस और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच झड़पें हुई। किसानों के एक वर्ग ने शहर के बीचों-बीच दिल्ली पुलिस द्वारा की गई सुरक्षा व्यवस्था को तोड़ने की कोशिश की। एनएच-44, जी.टी. करनाल रोड, आउटर रिंग रोड, सिग्नेचर ब्रिज, जी.टी. रोड, आईएसबीटी रिंग रोड, विकास मार्ग, एनएच -24, निजामुद्दीन खट्टा, नोएडा लिंक रोड, पीरागढ़ी, आउटर दिल्ली, पूर्व और पश्चिम दिल्ली सीमावर्ती क्षेत्रों में किसानों के प्रदर्शन के चलते भारी जाम देखा गया।

आउटर रिंग रोड, बादली रोड, के.एन काटजू मार्ग, मधुबन चौक, कंझावला रोड, पल्ला रोड, नरेला और डीएसआईडीसी नरेला रोड में भी जाम देखा गया। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को इन सड़कों से बचने की सलाह दी है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘युधिष्ठिर ब्रिज से सीलमपुर (दोनों कैरिजवे) तक ट्रैफिक मूवमेंट बंद है। ट्रैफिक को गीता कॉलोनी और सिग्नेचर ब्रिज से डायवर्ट किया गया है।’’ दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने भी मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में हिंसा के मद्देनजर येलो, ग्रीन, वायलेट और ब्लू लाइनों पर विभिन्न मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार को बंद कर दिया है। करनाल बाईपास, मुकरबा चौक, संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर, अक्षरधाम, गाजीपुर, और टिकरी बॉर्डर पर तनाव व्याप्त है। झड़पों में कई पुलिसकर्मी और किसान घायल हो गए।