Farmers, highway, ludhiana news

तेल एवं गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ किसानों ने किया हाईवे जाम, अर्धनग्न होकर की नारेबाजी

लुधियानाः किसानों ने अब केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल की बढ़ रही लगातार कीमतों को लेकर घेरना शुरू कर दिया है। गुरूवार को कई किसान जत्थेबंदियों ने अलग-अलग हाइवे जाम करके नारेबाजी की। किसान यूनियन लक्खोवाल के कार्यकर्ताओं एवं नेताओं ने अर्धनग्न होकर लुधियाना-दिल्ली हाइवे पर जाम लगाया और पेट्रोल-डीजल के साथ-साथ रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में तुरंत कटौती करने की मांग की। यूनियन के महासचिव हरेंद्र सिंह लक्खोवाल ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि बढ़ रही कीमतों को नजरअंदाज करने के खिलाफ 22 जुलाई को संसद का घेराव किया जाएगा। बता दें कि, 19 जुलाई से संसद का मानसून सत्र शुरू हो रहा है। इस दौरान अगर किसान संसद का घेराव करते हैं तो यह मामला अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंच जाएगा। 

इसी तरह, कुछ अन्य किसान जत्थेबंदियों ने अमृतसर में ट्रैक्टर-ट्रालियों की लंबी कतार लगाकर सड़कों के किनारे घेरे और पेट्रोल-डीजल एवं रसोई गैस की बढ़ी कीमते तुरंत वापस लेने की मांग की। इससे पहले, संयुक्त किसान मोर्चा के सैकड़ों कार्यकर्ता शहर के रामबाग में इकट्ठे हुए और अपनी अगली रणनीति तैयार की। इसके बाद यह लोग अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर शहर से मुख्य मार्ग की ओर निकले। यह सभी प्रदर्शनकारी केंद्र की मोदी सरकार को कोस रहे थे।  

Live TV

-->

Loading ...