Karnal administration

Breaking: किसानों और करनाल प्रशासन के बीच बेनतीजा रही बैठक, अब लगेगा पक्का मोर्चा

करनाल: हरियाणा के करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में लगातर किसान संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों और प्रशासन के बीच मंगलवार को हुई बेनतीजा बातचीत के बाद बुधवार को भी बैठक में कोई हल नहीं निकला। बैठक से बाहर आकर किसान नेताओं ने कहा कि अब करनाल में भी पक्का मोर्चा लगेगा।

बता दें कि किसान नेता राकेश टिकैत की अगुवाई में हजारों किसान सचिवालय के करीब धरने पर बैठे हैं। किसानों की मांग है कि एसडीएम आयुष सिन्हा पर कार्रवाई की जाए, इससे कम कुछ भी मंजूर नहीं है। हालांकि प्रशासन ने अभी तक उनकी मांग मानने से इनकार किया है।

संयुक्त किसान मोर्चा के कई नेताओं के साथ कई किसानों ने मिनी सचिवालय के मुख्य प्रवेश द्वार के बाहर रात बिताई। गृह विभाग ने स्थिति के संवेदनशील होने का हवाला देते हुए मंगलवार को करनाल में मोबाइल इंटरनेट सेवा के निलंबन की अवधि बुधवार आधी रात तक बढ़ा दी। इससे पहले यह सेवाएं करनाल के अलावा कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद और पानीपत में मंगलवार आधी रात तक के लिए निलंबित की गई थीं। आदेश में कहा गया, “विरोध प्रदर्शन और उग्र होने आशंका है जिससे जन सुरक्षा पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है और करनाल में कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है।”  

Live TV

-->

Loading ...