Elderly woman, corona

बुजुर्ग महिला ने हराया कोरोना, बोली- कोविड से घबराएं नही

मैं टांडा मैडीकल अस्पताल प्रशासन, चिकित्सकों और तमाम कोरोना वॉरियर्स को दिल से सलाम करती हूं कि उनकी बेहतर चिकित्सा सुविधा और सेवा के चलते, मैं गंभीर रूप से बीमार होने के बावजूद ठीक होकर घर अपने घर पहुंच गई हूं। ये शब्द हैं कोविड-19 को मात देने वाली खुंडियां तहसील के गांव पलियार की 78 वर्षीय बुजुर्ग महिला जानकी देवी ने की। वह अस्पताल, चिकित्सकों और अन्य कोरोना वॉरियर्स का बार-बार शुक्रि या अदा करते हुए कहती हैं कि उन्हें समय पर जो सर्वोत्तम चिकित्सा सहायता और देखभाल मिली, उसी के चलते वह अपने घर वापिस आ सकीं हैं। सभी डॉक्टर और स्टाफ ने उनके उपचार और देखभाल में अपनी भूमिका बखूबी निभाई।

वह बताती हैं कि  तमाम डॉक्टर और स्टाफ उनमें विश्वास जगाते रहे कि वह जल्द ही अच्छी हो जाएंगी। जानकी देवी के बेटे, पूर्व उप- प्रधान करतार सिंह भी कोरोना वारियर्स का आभार व्यक्त करते हुए कहते हैं कि यूं तो कोरोना को मात देकर लाखों लोग घर पहुंच रहे हैं; लेकिन मेरी माता की तबीयत ज्यादा खराब होने के कारण उनके बचने की उम्मीद न के बराबर थी। परन्तु टांडा मैडीकल अस्पताल द्वारा दी गई बेहतर सेवाओं और देखभाल के कारण उनकी उम्र और लम्बी हो गई है। 

जिलाधीश राकेश प्रजापति में चलाए जा रहे जागरुकताअभियान के बारे में कहते हैं कि आशा वर्करों और स्वास्थ्य कार्यकर्त्ताओं द्वारा लोगों को जागरूक किया जा रहा है। वे उपचार की बजाए लोगों से बचाव पर ध्यान देने की अपील करते हुए उनसे बार-बार अपने हाथों को साबुन से धोने, आवश्यकता होने पर एन-95 या कपड़े के दोहरा मास्क लगाने के बाद ही बाहर निकलने और उचित दूरी बनाए रखने, खरीददारी करते समय हाथों को सैनिटाइज करने और भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचने की सलाह देते हैं।

Live TV

-->

Loading ...