Reserve Bank of India, Governor Shaktikanta Das, interest rate, GDP growth rate

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की बैठक में फैसला- रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं

मुंबई: भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को प्रमुख ब्याज दर रेपो रेट 4 फीसदी पर स्थिर रखने की घोषणा की है। आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति यानी एमपीसी की बैठक में लिए गए फैसलों की घोषणा करते हुए दास ने कहा कि देश की आर्थिक विकास की संभावनाओं में काफी सुधार हुआ है और महंगाई दर 6 फीसदी के नीचे आई है। उन्होंने कहा कि महंगाई दर 4 फीसदी के बैंड के नीचे लौट चुकी है। 

आरबीआई गवर्नर ने 2021-22 में देश की आर्थिक विकास दर यानी जीडीपी वृद्धि दर 10.5 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है। 2020 में हमारे सामर्थ्य की परीक्षा हुई और 2021 में नए आर्थिक युग का निर्माण हो रहा है। बता दें कि, रेपो रेट वो रेट है जिस पर बैंक भारतीय रिजर्व बैंक से कर्ज लेते हैं। बैंक इस लोन पर आरबीआई को जिस दर पर ब्याज चुकाते हैं, उसे रेपो रेट कहा जाता है। 

एंड्रायड पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

Live TV

-->

Loading ...