Corona curfew to open from June 1 in Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश में 1 जून से खुलेगा कोरोना कर्फ्यू, नाइट कर्फ्यू में राहत नहीं

लखनऊ : प्रदेश में अब कोरोना महामारी का कहर कम होने लगा है। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री जोगी सरकार कोरोना कर्फ्यू में कुछ राहत देने का मन बना रही है और कोरोना कर्फ्यू को चरणबद्ध तरीके से खोलने की तैयारी में है। बता दें कि प्रदेश सरकार 1 जून से लगी पाबंदियों को हटा सकती है और बाजार तथा दफ्तरों को खोलने के लिए आदेश दे सकती है। हालांकि केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय का स्पष्ट निर्देश है कि 30 जून तक सख्ती को बरकरार रखें। फिर भी प्रदेश सरकार अपने स्तर पर निर्णय ले सकती है। गृह मंत्रालय द्वारा प्रत्येक राज्य के मुख्य सचिव को जारी पत्र में कहा गया है कि प्रदेश के जिन जिलों में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या अधिक है, वहां पर गहन एवं स्थानीय स्तर पर नियंत्रण के उपाय किए जाएं। कोरोना वायरस संक्रमण की चेन रोकने के खातिर देश के सभी राज्यों में कोरोना कर्फ्यू के अपेक्षित परिणाम सामने आ रहे हैं। 

बता दें कि सभी राज्यों में संक्रमण की रफ्तार मंद पडऩे लगी है। इसी को देखते हुए कई राज्यों ने 1 जून से लॉकडाउन समाप्त करने की योजना बना ली है। फिर भी प्रदेश सरकार अभी पूरी तरह से छूट नहीं देना चाहती है क्योंकि सरकार को लगता है कि इससे कोरोना के मामलों में फिर से बढ़ोतरी शुरू हो सकती है। इसके तहत सरकार वीकेंड और नाइट कर्फ्यू जारी रह सकती है लेकिन वह अन्य कई गतिविधियों में छूट दे सकती है। इसमें सार्वजनिक स्थल पर लोगों के कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 25 के स्थान पर 50 लोगों के एकत्र होने की मंजूरी भी है। 

इसके अलावा विवाह से जुड़ी वस्तुओं की दुकान, कपड़े की दुकान, किराना, सब्जी व फल की दुकानों को भी खोला जाएगा। इसी क्रम में कंस्ट्रक्शन से जुड़े कामों को शुरू करने की मंजूरी मिल सकती है। सरकार फिलहाल तो शॉपिंग मॉल, फिल्म थिएटर तथा सैलून के साथ ही कंटेनमेंट जोन में पडऩे वाली सारी दुकानें खोलने की योजना में नहीं है। सामाजिक, धार्मिक व राजनीतिक कार्यक्रम पर पाबंदी जारी रहेगी। प्रदेश सरकार के अनुसार अगर सब कुछ ठीक रहा तो धीरे-धीरे सब कुछ खोलने पर विचार किया जाएगा। 

Live TV

Breaking News


Loading ...