Chinese Supreme Leader

अल्पसंख्यक नागरिकों का चीनी सर्वोच्च नेता का ख्याल

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस (नवम्बर 2012) के बाद से लेकर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग कभी-कभार देश के विभिन्न स्थलों का निरीक्षण दौरा करते हैं। राजधानी में जन बृहद भवन से किसानों के खेती तक, वे चीनी अल्पसंख्यक जातियों के लोगों के साथ सदिच्छापूर्ण और स्नेहपूर्ण बातचीत करते हैं। आम नागरिकों का वे हमेशा से ख्याल रखते हैं।  

नवम्बर 2013 में, मध्य चीन के हूनान प्रांत के निरीक्षण दौरे के दौरान शी चिनफिंग म्याओ जाति के शीपातोंग गांव गए, जहां उन्होंने गरीब परिवार शी फाच्वान के घर में म्याओ जाति की महिला को दीदी कहते हुए बातचीत की और खुद को जनता का सेवक बताया।

चाहे विभिन्न स्थानों में निरीक्षण दौरा हो, या हर साल पेइचिंग आयोजित दो-सत्र के सम्मेलनों के दौरान क्यों न हो, शी चिनफिंग अल्पसंख्यक जातियों के लोगों का गहरे रूप से ख्याल रखते हैं।   2016 में दो-सत्र सम्मेलनों के दौरान, शी चिनफिंग ने तिब्बती जाति की प्रतिनिधि, छिंगहाई प्रांत के ह्वांगनान तिब्बती स्वायत्त प्रिफेक्चर के जन अस्पताल में प्रसूति एवं स्त्री रोग की डॉक्टर न्यांग माओश्येन के साथ बात की, जिसने लोगों पर गहरी छोप छोड़ी।   

शी चिनफिंग ने पूछा कि क्या किसान और चरवाहे अब बच्चे पैदा करने के लिए अस्पताल जाते हैं? तो न्यांग माओश्येन ने कहा कि अब सब लोग अस्पताल आते हैं। जो गर्भवती महिला दूर रहती हैं, वे पहले से मकान किराए पर लेने आती हैं, और फिर जन्म देकर वापस चली जाती हैं। 

शी चिनफिंग ने आगे पूछा कि क्या गांव में स्वास्थ्य कक्ष और टाउंशिप में अस्पताल उपलब्ध है कि नहीं। तो उन्हें हां में जवाब मिला।  साल 2019 में दो-सत्र सम्मेलनों के दौरान शी चिनफिंग भीतरी मंगोलिया स्वायत्त प्रदेश के प्रतिनिधिमंडल के बैठक-कक्ष आए और प्रतिनिधि वू यूनपो द्वारा चरवाहों का नेतृत्व कर अमीर बनने की ओर ले जाने वाले भाषण सुना और उन्हें अच्छे ब्रांड के निर्माण की प्रेरणा दी। 

11 फरवरी 2018 को, सछ्वान प्रांत की चाओच्वे काउंटी में ई जाति का गरीब परिवार, लड़की चीहाओ योउक्वो के घर आए। 10 वर्षीय लड़की देश के सर्वोच्च नेता के सामने स्कूल में सीखा गीत सुनाया। शी चिनफिंग ने लड़की की सराहना करते हुए परिवार के लोगों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि आप लोगों के जीवन में दिन-ब-दिन अच्छे से अच्छा होने को देखा, मैं बहुत खुश हूँ। मुझे उम्मीद है कि बच्चे स्वस्थ बड़े होंगे और सुखमय जीवन बीताएंगे।          

अल्पसंख्यक जातियों के आम लोगों का जीवन अब अच्छा हो गया है। वे राष्ट्रपति से मिले थे और उनके साथ बातचीत की। सर्वोच्च नेता और आम नागरिकों के बीच स्नेहपूर्ण बातचीत और इस दौरान गर्मजोशी का एहसास लोगों की यादों में बसी रहेगी।
( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )


Live TV

-->

Loading ...