Chinese new year

चीनी नववर्ष का जश्न और उसकी तैयारियां

चीनी नया साल चीन का सबसे बड़ा त्योहार होता है, जिसे यहां तकरीबन दो हफ्तों तक मनाया जाता है। इसे लूनर न्यू ईयर फेस्टिवल भी कहा जाता है। आमतौर पर चीनी नए साल के दौरान सभी ऑफिस, कॉलेज, स्कूल बंद हो जाते हैं। चीनी लोग सैर-सपाटे पर निकल जाते हैं। 

चीनियों का नया साल कभी एक तय तारीख पर नहीं होता, और हर बार यह नई तारीख पर शुरू होता है, लेकिन यह हमेशा 21 जनवरी से 20 फरवरी के बीच ही आता है। चीन में हर जगह जश्‍न का माहौल रहता है, पूरा आसमान रंग-बिरंगे फेस्टिव फ्लैग और लालटेन से जगमगा उठता है। 

यह कहना गलत नहीं होगा कि चीनी नये साल का उत्सव दुनिया का सबसे बड़ा रंगीन उत्सव होता है। दुनिया में चीनी लोग जहां भी हों, इस उत्सव को धूमधाम से मनाते हैं। यह उत्सव चीनी कैलेंडर के अनुसार हर साल पहले महीने में मनाया जाता है जो पहले महीने के पहले दिन शुरू होता है और 15 दिनों तक चलता है और इसके आखिरी दिन को लालटेन उत्सव कहा जाता है। चीनी नये साल को पूरे चीन में बड़े ही जोर-शोर से मनाया जाता है, और नये साल की शाम को परिवार के सभी लोग एकजुट होकर रात का खाना खाते हैं।

इस साल चीनी नववर्ष, या वसंत उत्सव 12 फरवरी को पड़ रहा है। चीनी परंपरा की बात करें तो चीनी नववर्ष की तैयारियां चीनी चंद्र पंचाग के 12वें महीने के 23वें दिन से ही शुरू हो जाती है, करीब 23 दिनों तक लोग नववर्ष के जश्न में डूबे रहते हैं। 

1. चीनी चंद्र पंचाग के 12वें महीने के 23वें दिन को "छोटा नववर्ष" भी कहा जाता है। यह वो दिन होता है जब रसोई के देवता स्वर्गलोक वापिस चले जाते हैं।
2. 12वें महीने के 24वें दिन में लोग अपने-अपने घरों की साफ-सफाई करते हैं। ये परंपरा काफी लम्बे समय से चली आ रही है। माना जाता है कि इससे दुर्भाग्य दूर भागता है।
3. 25वें दिन में लोग अपने घरों में तोफू दही बनाते हैं। लोक कथाओं के अनुसार, इस दिन जेड सम्राट, जो कि सर्वशक्तिमान है, पृथ्वीलोक पधारते हैं और लोग उन्हें अपनी कमखर्ची दिखाने के लिए तोफू दही खाते हैं।
4. 26वें दिन में लोग सुअर काटते हैं क्योंकि पुराने समय में गरीब लोग अकसर मांस नहीं खरीद पाते थे इसलिए इस दिन मांस खाने का वार्षिक अवसर होता है।
5. 27वें दिन में लोग मुर्गों को हलाल करते हैं और आने वाले वसंत उत्सव के लिए जरूरी सामान खरीदने गांव के मेले में जाते हैं।
6. 28वें दिन में लोग भाप में पके पाव (बन) बनाते हैं और अपने घरों के दरवाजों व खिड़कियों पर लाल काग़ज़ कटींग चिपकाते हैं। इसे सौभाग्य का प्रतीक मानते हैं।
7. 29वें दिन में लोग अपने पूर्वजों के कब्रों पर जाकर साफ-सफाई करते हैं और उन्हें याद करते हैं और श्रद्धांजलि देते हैं। पूर्वजों को श्रद्धांजलि देने की परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है।
8. 30वां दिन चीनी चंद्र पंचाग में साल का आखिरी दिन होता है। लोग नये साल में प्रवेश करने का बेसब्री से इंतजार करते हैं। नये साल की पूर्वसंध्या पर लोग पारंपरिक भोजन करते हैं और परिवार के सभी सदस्य एक साथ बैठकर भोजन करते हैं।
9. चीनी नववर्ष के पहले दिन की सुबह को जब मुर्गा पहली बांग देता है तो वो नये साल के आगमन की खबर देता है। नई पीढ़ी के लोग अपनो से बड़ों के घर जाते हैं और होंगपाओ (लाल लिफाफा, जिसमे नये साल पर उपहार के पैसे होते हैं) प्राप्त करते हैं।
10. चीनी नववर्ष के दूसरे दिन लोग अपने रिश्तेदारों से मिलने जाते हैं और उनके साथ खाना खाते हैं।
11. चीनी नववर्ष के तीसरे दिन बेटियां अपने पतियों के साथ माता-पिता के घर आती हैं। युवा दंपती अपने साथ ढेर सारे उपहार लाते हैं।
12. चीनी नववर्ष के चौथे दिन रसोई के देवता पृथ्वी लोक पधारते हैं और जनगणना करते हैं। लोग सभी जानवरों के साथ एक साथ रहते हैं। विशेष तौर पर भेड़ों को अपने घरों में रखना बहुत शुभ माना जाता है।
13. चीनी नववर्ष के पांचवें दिन में बैलों को खेतों में काम करने के लिए भेजा जाता है जबकि लोग धन के देवता के आगमन के लिए जश्न मनाते हैं।
14. चीनी नववर्ष के छठे दिन लोग अपने घोड़ों के साथ सड़कों पर चहलक़दमी करते हैं। हर कोई नये साल पर अपनी गरीबी दूर करने के लिए छोटा-मोटा जश्न मनाते हैं।
15. चीनी नववर्ष के 7वें दिन में लोग अपने को स्वस्थ व सेहतमंद बनाये रखने के लिए दलिया और मालपुआ बनाते हैं।
16. चीनी नववर्ष के 8वें दिन में लोग अपना दया भाव दिखाने के लिए पकड़े हुए जीव-जन्तुओं व पक्षियों को कैद से मुक्त कर देते हैं। कहा जाता है कि इस दिन भगवान लोगों की निष्ठाभाव स्वीकार करने पृथ्वी लोक आते हैं।
17. चीनी नववर्ष के 9वें दिन को जेड सम्राट का जन्मदिन होता है। जैसा कि जेड सम्राट एक सर्वशक्तिमान है, लोग उनकी अराधना करते हैं।
18. चीनी नववर्ष के 10वें दिन लोग पत्थरों की आदर व पूजा करते हैं, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि पत्थर जीवन का सबसे आवश्यक तत्व है।
19. चीनी नववर्ष के 11वें दिन में लोग पर्पल देवी की पूजा करते है जिसे महिलाओं की रक्षक कहा जाता है।
20. चीनी नववर्ष के 12वें दिन में लोग लालटेन त्योहार की तैयारियों के लिए लालटेन बनाते हैं। लालटेन त्यौहार चीनी नववर्ष के 15वें दिन आता है।
21. चीनी नववर्ष के 13वें दिन में लोग लालटेन जलाकर जांच करते हैं जो उन्होंने बनाया होता है। उस दिन शाम को हर गली व सड़क लालटेन से जगमगा उठती हैं।
22. चीनी नववर्ष के 14वें दिन को लिनश्वेई देवी का जन्मदिन होता है। कहा जाता है कि लिनश्वेई देवी उन महिलाओं की रक्षा करती है जिन्हें प्रसव के दौरान कोई दिक्कत आती है।
23. चीनी नववर्ष के 15वें दिन को लोग चंद्रमा देखते हैं और भविष्यवाणी करते है कि इस साल बड़ी फसल होगी कि नहीं। यह उत्सव धीरे-धीरे लालटेन उत्सव में विकसित हो गया। इस दिन सभी चीनी लोग अपने घरों को लालटेन से सजाते हैं।
( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )


Live TV

-->

Loading ...