China

चीन चिकित्सा व शिक्षा के लोक कल्याण पर कायम रहेगा:शी चिनफिंग

चीन में 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के बाद हर वर्ष सीपीपीसीसी के उद्घाटन के बाद चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के महासचिव शी चिनफिंग विशेष तौर पर सीपीपीसीसी के सदस्यों की संयुक्त बैठक में भाग लेते हैं, और सदस्यों के साथ राज्य मामलों पर चर्चा करते हैं।

सीपीपीसीसी के सदस्य चीन की विभिन्न जातियों, विभिन्न जगतों, और विभिन्न व्यवसायों से होते हैं। उनमें अधिकतर लोग लोकतांत्रिक पार्टियों, राष्ट्रीय उद्योग व वाणिज्य संघ, या निर्दलीय संगठन के सदस्य हैं। शी चिनफिंग उनके साथ खुलकर चर्चा करते हैं। और चर्चा का विषय भी बहुत व्यापक होता है। 

6 मार्च के दोपहर के बाद शी चिनफिंग ने 13वीं सीपीपीसीसी के चौथे सत्र में भाग लेने वाले चिकित्सा, दवा व स्वास्थ्य और शिक्षा जगतों के सदस्यों के साथ चर्चा की। उन्होंने बल देकर कहा कि चीन चिकित्सा व शिक्षा के लोक कल्याण पर कायम रहेगा। हमें जनता के स्वास्थ्य को प्राथमिक रणनीतिक स्थान पर रखना चाहिये, और श्रेष्ठ व संतुलित बुनियादी सार्वजनिक शिक्षा सेवा व्यवस्था का निर्माण करना चाहिये।

गौरतलब है कि अब तक चीन में सार्वजनिक अस्पतालों की संख्या लगभग 12 हजार तक पहुंच चुकी है। वर्ष 2020 में अचानक आई कोविड-19 महामारी ने चीन की चिकित्सा व स्वास्थ्य व्यवस्था को एक बड़ी परीक्षा दी। खास तौर पर सार्वजनिक अस्पतालों ने सबसे आपात व सबसे खतरनाक चिकित्सा कार्य किये हैं। उसी दिन की संयुक्त बैठक में शी चिनफिंग ने खासतौर पर उन की प्रशंसा की।
(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

Live TV

-->

Loading ...