धोखाधड़ी

पांच अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज

जिला परिषद के पूर्व मेंबर मामचंद गुर्जर के फर्जी सर्टीफिकेट को सही करार देने और एफआईआर कैंसल करने के मामले में बिलासपुर पुलिस ने तत्कालीन
एसडीएम, रिटायर्ड डीईओ समेत पांच अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया है। पुलिसने यह मामला कोर्ट के आदेश पर दर्ज
किया है। मामले की जांच का जिम्मा डीएसपी आशीष चौधरी को सौंपा गया है।जानकारी के अनुसार गांव निवासी संजीव कुमार ने बताया किमामचंद गुर्जर ने जिला परिषद चुनावके लिए नामांकन करते समय दसवीं कक्षा का प्रमाण पत्र लगाया था। उसे किसी परिचित से पता चला कि मामचंद ने दसवीं का जो प्रमाण पत्र लगाया है।वह फर्जी है। यह प्रमाण पत्र बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन मध्य भारत ग्वालियर द्वारा वर्ष 2009 में जारी किया गया था।

उसने 16 जुलाई को डीईओ कार्यालय जिला ग्वालियर मध्य प्रदेश में आरटआई लगाई। उसे आरटीआई में सूचना दीगई कि बोर्ड ऑफ  सैकेंडरी एजुकेशन मध्य भारत ग्वालियर के नाम से शिक्षाबोर्ड नहीं है। रिकॉर्ड के आधार पर उसने इसकी शिकायत डीसी, एसपी वडीईओ को दी।

Live TV

Breaking News


Loading ...