बोर्ड परीक्षाओं का एलान

20 से 25 अप्रैल के बीच हो सकता है बोर्ड परीक्षाओं का एलान

हरियाणा में 10वीं व 12वीं की परीक्षाएं अप्रैल से शुरू हो सकती हैं। इसकी औपचारिक घोषणा 20 से 25 अप्रैल के बीच होने की संभावना है। शुक्र वार को निदेशक सेकेंडरी शिक्षा विभाग जे. गणेशन और बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद सहित अन्य अधिकारियों के बीच वीसी से बातचीत हुई। जिसमें बोर्ड परीक्षाओं को लेकर तमाम बिंदुओं पर बातचीत हुई। हालांकि इससे पहले भी अधिकारी इस संबंध में वीसी से बातचीत कर चुके हैं और खुद शिक्षा मंत्री कंवर पाल भी बोर्ड परीक्षाओं के अप्रैल माह से संचालित होने की बात कह चुके हैं। लिहाजा अब परीक्षाओं से जुड़ी तमाम गतिविधियों को तेज करते हुए अधिकारियों ने परीक्षाओं के आयोजन को लेकर मंथन शुरू कर दिया है। बैठक में 7 बिंदुओं पर हुई चर्चा : वीसी के जरिए हुई बैठक में 10वीं व 12वीं की शैक्षिक एवं ओपन स्कूल वार्षिक परीक्षाओं को संचालित करवाने की तारीख पर मंथन हुआ। परीक्षाओं के प्रश्न-पत्र के डिजाइन व पाठयक्र म को लेकर भी बातचीत हुई। खास बात यह है कि अधिकारियों के बीच परीक्षाओं को नकल रिहत बनाने पर काफी देर तक बातचीत हुई। इस बारे भी मंथन किया गया कि पिछले साल परीक्षाओं को नकल रिहत बनाने के लिए क्या-क्या कदम उठाए गए थे और इस साल कोविड19 संक्र मण को देखते हुए क्या-क्या कदम उठाए जा सकते हैं। नकल की रोकथाम के लिए पिछले साल परीक्षा में परीक्षा केंद्रों के निरीक्षण के लिए कितने उड़नदस्ते गठित किए गए थे और इस साल कितने उड़नदस्ते गठित किए जाएंगे। पिछली 10वीं व 12वीं की परीक्षा में (मार्च 2017 से मार्च 2020) में यूएमसी के कितने केस एवं प्रतिरूपेण के कितने केस बनाए गए। जून से अगला शैक्षणकि सत्र शुरू करने पर होगा मंथन : बोर्ड अप्रैल से 10वीं व 12वीं की परीक्षाएं संचालित करने बारे विचार कर रहा है। उधर, सीबीएसई मई में बोर्ड परीक्षाएं करवाना चाहती है। ऐसे में अगला शैक्षणकि सत्र भी जून माह के आसपास शुरू होने की संभावना है। अधिकारियों का मानना है कि कोरोना संक्र मण को देखते हुए अगला शैक्षणकि सत्र अच्छे से शुरू किया जाएगा, पर इससे पहले संक्र मण की रोकथाम को लेकर सभी सुरक्षा मानक अपनाए जाएंगे ताकि बच्चों को किसी तरह की दिक्कत न हो, फिर भले ही शैक्षणकि सत्र जून में ही क्यों न शुरू करना पड़े।

Live TV

Breaking News


Loading ...