Twitter, Blue Tick, Rajeev Chandrasekhar

Twitter का नया कारनामा, मंत्री बनते ही Rajeev Chandrasekhar के अकाउंट से हटाया Blue Tick

नई दिल्ली: देश के नए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर के ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हट गया है। राजीव चंद्रशेखर ने अपना यूजरनेम बदला था। बताया जा रहा है कि राजीव चंद्रशेखर का ट्विटर हैंडल Rajeev MP था, जो उन्होंने बाद में Rajeev GOI कर दिया। इस मामले में ट्विटर इंडिया ने कहा कि अगर कोई भी अपना ट्विटर हैंडल बदलता है तो ट्विटर किसी अकाउंट से ब्लू वेरिफाइड बैज को अपने आप हटा देता है।

कार्यभार संभालने के बाद ट्विटर विवाद पर चंद्रशेखर ने कहा था कि "मैंने अभी चार्ज लिया है। मंत्रालय एकतरफा आधार पर काम नहीं करता है और इसका व्यक्तिगत विचारों और विचारों से कोई लेना-देना नहीं है। मंत्रालय नए केंद्रीय मंत्री के साथ बैठकर इन सभी मुद्दों का समाधान करेगा।"

इससे एक दिन पहले रविवार को Twitter ने रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर (RGO) पद पर विनय प्रकाश की नियुक्ति की है। वेबसाइट में दी गई जानकारी के मुताबिक, अपनी शिकायतों को भेजने के लिए आप विनय प्रकाश को grievance-officer-in@twitter.com पर भेज सकते हैं। इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले की सुनवाई करते हुए Twitter को जल्द ही ये बताने के लिए कहा था वह कब तक नए IT कानून के तहत स्थानीय रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर (RGO) की नियुक्त करेगा। हाई कोर्ट ने मंगलवार को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर को 8 जुलाई को ये बताने का निर्देश दिया था कि रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति कब करेगा।

बता दें कि कुछ दिन पहले तत्कालीन सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद को ट्विटर ने थोड़ी देर के लिए ब्लॉक कर दिया था और इस पर काफी विवाद हुआ था। प्रसाद ने 25 जून को इसकी जानकारी कू ऐप के जरिये दी थी। प्रसाद ने इसका स्क्रीनशॉट भी शेयर किया था। केंद्र सरकार के नए डिजिटल नियमों को मानने में आनाकानी करने के कारण सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म ट्विटर की भारत सरकार से विवाद चल रहा है। प्रसाद ने कहा था कि ट्विटर ने इसके पीछे कारण यह बताया कि डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट का उल्लंघन हुआ है और एक घंटे बाद उन्होंने मुझे मेरे अकाउंट को इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी। 

 

Live TV

-->

Loading ...