Bihar government JP and Lohias

Bihar सरकार का बड़ा फैसला- JP और लोहिया के विचारों को सिलेबस से बाहर नहीं किया जाएगा

पटना : जे.पी. विश्वविद्यालय, छपरा ने लोक नायक जयप्रकाश नारायण, राम मनोहर लोहिया, एम.एन. रॉय और लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचारों को सिलेबस से बाहर किए जाने का फैसला लिया था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जे.पी. यूनिवर्सिटी, छपरा में अब पी.जी. सिलेबस में राजनीति विज्ञान से जे.पी. और लोहिया के विचार नहीं हटाए जाएंगे। ऐसे में राजनीतिज्ञों और महापुरुषों के विचारों को सिलेबस से बाहर निकालने की इजाजत सरकार नहीं देती।

इसके बाद इस पर तीखी प्रतिक्रिया होने के बाद मचे राजनीतिक घमासान के बीच शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी को खुद मीडिया के सामने आना पड़ा और सफाई देनी पड़ी। शिक्षा मंत्री ने विश्वविद्यालय के इस फैसले को अनुचित बताया और कहा कि जे.पी. यूनिवर्सिटी, छपरा में अब पी.जी. सिलेबस में राजनीति विज्ञान से जे.पी. और लोहिया के विचार नहीं हटाए जाएंगे। शिक्षा मंत्री के अनुसार इस मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद मुझे फोन किया और उसके बाद मामले की जांच शुरू हुई। 

इसके बाद शिक्षा विभाग ने ये फैसला लिया कि जे.पी. और लोहिया के विचार पाठ्यक्रम में शामिल रहेंगे। वहीं, शिक्षा विभाग ने आदेश दिया है कि हाल के दिनों में जिन विश्विद्यालयों में भी पाठ्यक्रम में कोई बदलाव हुआ हो तो उसकी सूचना हर हाल में विश्विद्यालय शिक्षा विभाग को दें।  

Live TV

-->

Loading ...