मां सरस्वती जी

Basant Panchami : बसंत पंचमी पर करें मां सरस्वती जी के इन 12 नामो का जप, मिलेगा लाभ

जैसे के हम सब जानते है के 16 फरवरी को बसंत पंचमी का त्यौहार आ रहा ही। जो लोग शिक्षा और संगीत के बहुत करीब होते है उन्हें इस दिन का बहुत ही बेसब्री से इंतज़ार होता है। बसंत पंचमी शिक्षा और संगीत का त्योहार है। इस दिन मां सरस्वती जी की पूजा की जाती है। क्युकी मां सरस्वती जी शिक्षा और संगीत से बहुत लगाव रखती है। इस दिन मां सरस्वती जी की पूजा करने से बेहद लाभ मिलता है। लेकिन माना जाता है के इस दिन मां सरस्वती जी के 12 नामों का जप इस दिन बहुत ही शुभ होता है। तो आइए जानते है मां सरस्वती जी के उन 12 नामों के बारे में :

मां सरस्वती के 12 नाम इस प्रकार हैं : -

मां सरस्वती के बारह नाम : भारती, सरस्वती, शारदा, हंसवाहिनी, जगती, वागीश्वरी, कुमुदी, ब्रह्मचारिणी, बुद्धिदात्री, वरदायिनी, चंद्रकांति व भुवनेश्वरी।

इस दिन पीले वस्त्र धारण कर पीला चंदन, पीला अक्षत, पीले फूल, धूप दीप नैवेद्य, गंगा जल, पान के पत्ते, सुपारी, लौंग, इलायची, पीले वस्त्र, वाद्य यंत्र, पुस्तकें आदि से सरस्वती की प्रतिमा को ऊंचे आसन पर रख कर पूजा करना चाहिए तथा खड़े होकर मां सरस्वती की आरती करनी चाहिए।
यह बारह नाम आपके अज्ञान का नाश करके प्रकाश की ओर ले जाते है। वसंत पंचमी के अबूझ नक्षत्र में मां सरस्वती का विधि-विधान से पूजन करने पर निश्चित सफलता मिलती है। इस दिन साधकों पर मां की विशेष कृपा होती है।

Live TV

Breaking News


Loading ...