Chief Judicial Magistrate, Narendra Giri, Anand Giri, Uttar Pradesh News

नरेंद्र गिरी मौत मामला: आनंद गिरी को जेल में मिलेगी सुरक्षा, कोर्ट का निर्देश

प्रयागराजः प्रयागराज के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) ने महंत नरेंद्र गिरी की मौत के आरोपी आनंद गिरी को जेल मैनुअल और अन्य कानूनों के अनुसार सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया है। आनंद गिरी ने गुरुवार को अदालत के समक्ष एक आवेदन दिया, जिसमें उन्होंने जेल के अंदर अपनी सुरक्षा के लिए खतरा होने का दावा किया था। सीजेएम ने निर्देश दिया कि आनंद गिरी को अब वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अदालत में पेश किया जाएगा। बता दें कि, नरेंद्र गिरी का शव 20 सितंबर को प्रयागराज के जॉर्ज टाउन पुलिस सर्कल की सीमा के बाघंबरी मठ में एक कमरे की छत से लटका मिला था। 

महंत ने अपने सुसाइड नोट में आनंद गिरी के अलावा दो अन्य लोगों पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया था। आनंद गिरी और दो अन्य के खिलाफ यहां जॉर्ज टाउन पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई। इसके बाद, गिरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और पूछताछ के बाद 22 सितंबर को सीजेएम की अदालत में पेश किया। उन्हें न्यायिक हिरासत में नैनी सेंट्रल जेल में भेज दिया गया। इस मामले को अब सीबीआई ने जांच के लिए अपने हाथ में ले लिया है।

Live TV

Breaking News


Loading ...