बांसुरी

वास्तु के अनुसार सकारात्मक ऊर्जा का काम करती है घर पर रखी बांसुरी

भगवान श्री कृष्ण जी को बांसुरी बहुत ही प्रिय है। कृष्ण जी जब भी बांसुरी बजाते थे आस पास के लोग अपने दुःख भूल जाते थे और उनकी बांसुरी की मधुर आवाज़ में खो जाते थे। क्या आप जानते है के वास्तु के अनुसार बांसुरी को घर पर रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। घर पर राखी गई बांसुरी चारो और सकारात्मक ऊर्जा का काम करती है। आज हम आपको बताने जा रहे है की वास्तु के अनुसार घर पर बांसुरी रखने के फायदों के बारे में। 

1. बांसुरी को बहुत ही पवित्र और पूजनीय माना जाता है।

2. बांसुरी की अभिव्यक्त शक्ति अत्यंत विविधतापूर्ण है, उससे मधुर संगीत बजाया जाता है।

3. बांसुरी प्राकृतिक आवाजों की नकल करने में निपुण है, उससे कई तरह के पक्षियों के आवाज की हू-ब-हू नकल की जा सकती है।

4. बांसुरी घर के वातावरण में मौजूद समस्त नकारात्मक शक्तियों को समाप्त करके सकारात्मक ऊर्जा सक्रिय करने का कार्य करती है।

5.बांसुरी बांस से बनी होती है तथा इसके पौधे को दिव्य माना जाता है। अत: घर में बांसुरी का प्रयोग करके कई तरह से लाभ उठाया जा सकता है।

6. ऐसा माना जाता है कि जो व्यक्ति अपनी नौकरी से परेशान रहता हैं, वह अपने घर में बांसुरी रखें , बांसुरी उसकी सारी मुश्किलें आसान कर सकती है।

7. अगर कोई काफी मेहनत के बाद भी अपने बिजनेस में सफलता हासिल नहीं कर पा रहा है तो उसे बांस की बनी बांसुरी अपने दुकान में रखनी चाहिए इससे व्यापार में उन्नति होती है।

8. नए व्यवसाय का आरंभ और ईश्वर का पूजन करते समय अपने दुकान की छत पर दो बांसुरी चिपकानी चाहिए या टांग देनी चाहिए। यह बांसुरी अच्छी सफलता दिलाने में मददगार साबित होता है।

9. बांसुरी से निकलने वाला स्वर प्रेम की बरखा करता है। जिस घर में बांसुरी रखी होती है वहां प्रेम और धन की कोई कमी नहीं रहती है।

10. बांसुरी के संबंध में एक धार्मिक मान्यता है कि जब बांसुरी को हाथ में लेकर हिलाया जाता है तो बुरी आत्माएं दूर हो जाती हैं और जब इसे बजाया जाता है तो घरों में शुभ चुंबकीय प्रवाह का प्रवेश होता है।

Live TV

Breaking News


Loading ...