Afghanistan, National News, Taliban, Indian, Ministry of External Affairs

अफगानिस्तान में फंसे करीब 1650 भारतीयों ने वतन वापसी की लगाई गुहार

नई दिल्लीः अफगानिस्तान में हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। तालिबान ने काबुल को अपने कब्जे में ले लिया है, जिससे पूरे शहर में अराजकता फैल गई है। लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागते हुए दिखाई दे रहे हैं। वहीं इस बीच अफगानिस्तान में फंसे करीब 1650 भारतीयों ने काबुल स्थित भारतीय दूतावास में मदद की गुहार लगाई है। विदेश मंत्रालय ने अफगानिस्तान में फंसे भारतीयों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए थे, जिसके बाद करीब 1650 भारतीयों ने वतन वापसी के लिए अप्लाई किया है। 

बता दें कि, भारत ने बीते दिन करीब 150 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है। इनमें अधिकतर भारतीय दूतावास में काम करने वाले लोग ही हैं। अब अन्य हिस्सों में फंसे भारतीय कर्मचारी और अन्य लोगों को निकालने पर जोर दिया जा रहा है। इससे पहले गृह मंत्रालय ने अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए भारत आने की इच्छा रखने वाले अफगान नागरिकों की अर्जियों पर जल्द फैसलों के लिए वीजा की नई श्रेणी की घोषणा की। गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए वीजा प्रावधानों की समीक्षा की है। भारत में प्रवेश के लिए वीजा अर्जियों पर जल्द फैसला लेने के लिए ‘ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा’ की नई श्रेणी बनाई गई है।’

उल्लेखनीय है कि, हजारों अफगान नागरिक सोमवार को काबुल के मुख्य हवाई अड्डे पर उमड़ पड़े। उनमें से कुछ तालिबान से बचकर भागने के लिए इतने परेशान थे कि वे सेना के एक विमान पर चढ़ गए और जब उसने उड़ान भरी तो नीचे गिरने के कारण उनकी मौत हो गई। अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि अराजकता की स्थिति में कम से कम 7 लोगों की मौत हो गई।

Live TV

-->

Loading ...