Unmukt Chand played

भारतीय क्रिकेट से संन्यास के 10 दिन बाद Unmukt Chand ने America में खेली तूफानी पारी, जड़ा पहला अर्धशतक

नई दिल्लीः भारतीय टीम को साल 2012 में अंडर-19 विश्वकप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले भारतीय कप्तान उन्मुक्त चंद ने 28 साल की उम्र में संन्यास  लेने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि वह अब अमेरिका की तरफ से क्रिकेट खेलते हुए नजर आएंगे। संन्यास के महज 10 दिन बाद अमेरिका में उन्मुक्त चंद तूफानी पारी खेल कर अर्धशतक जड़कर अपने आलोचकों को करारा जवाब दे दिया है। अमेरिका में उन्मुक्त ने माइनर लीग क्रिकेट में खेले गए एक मैच में जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए टूर्नामेंट में अपना पहला अर्धशतक जड़ा है। उन्मुक्त ने अपनी इस आतिशी पारी का वीडियो खुद इंस्टाग्राम पर शेयर किया है, जिसमें वह एक के बाद एक दमदार शॉट्स खेलते हुए नजर आ रहे हैं। 

बता दें कि, उन्मुक्त ने हाल ही में महज़ 28 साल की उम्र में भारतीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। जिसके बाद उन्मुक्त के इस फैसले से हर कोई हैरान था। हालांकि उन्मुकत ने अपने इस फैसले के पीछे की वजह बताते हुए कहा था कि उन्हें भारतीय टीम में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका नहीं मिल पाया जिसके बाद उन्हें ये फैसला लेना पड़ा था। गौरतलब है कि, उन्मुक्त चंद के बाद कई और भारतीय खिलाड़ियों ने भारत छोड़ते हुए अमेरिका के लिए खेलने का फैसला किया है। जिसमें भारत की तरफ से अंडर-19 वर्ल्ड कप और घरेलू क्रिकेट खेलने वाले क्रिकेटर शामिल हैं। इस लिस्ट में स्मित पटेल, मनन शर्मा, मिलिंद कुमार और हरमीत सिंह का नाम शामिल है जो अब तक अमेरिका का रूख कर चुके हैं।

Live TV

-->

Loading ...